विक्टोरिया मेमोरियल का इतिहास

0
1460
Victoria Memorial ka Itihas

Victoria Memorial ka Itihas: यदि आपको पश्चिम की संस्कृत को समझना हो अर्थात पश्चिम के लोग अपने महल या मीनारों का निर्माण करते थे, वह निर्माण कैसे करते थे? उसमें क्या वह मेहराब का उपयोग करते थे। यह भी सवाल उठता है कि कौन सा पत्थर का उपयोग करते थे। यह सब प्रश्न आपके मन में उठ रहे होंगे। यदि आप यदि इन प्रश्नों का उत्तर पाना चाहते हैं तब एक बार आप पश्चिम बंगाल के कोलकाता जिला में जाइए। कोलकाता में आपको विक्टोरिया मेमोरियल दिखेगा जो पश्चिम के संस्कृत का परिचायक है। इस विक्टोरिया मेमोरियल को सन 1905 में ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया की याद में बनवाया गया था। इसको बनवाने का श्रेय भारत में तत्कालीन गवर्नर जिन्होंने बंगाल का विभाजन करवाया लार्ड कर्जन को जाता है। इस विक्टोरिया मेमोरियल को देश और विदेश के कोने-कोने से पर्यटक इसे देखने आते हैं। क्योंकि यह पश्चिम और दक्षिण पूर्वी एशिया की संस्कृत का मिश्रण है।

Victoria Memorial ka Itihas क्या है?

यदि आप विक्टोरिया मेमोरियल इतिहास के विषय में जानना चाहते हैं तो इसकी इतिहास के विषय में जानने से पहले यह जानते है की रानी विक्टोरिया कौन थी? जिनके नाम पर ही विक्टोरिया मेमोरियल का निर्माण करवाया गया। रानी विक्टोरिया ब्रिटेन की महारानी थी। जिनके समय में ब्रिटेन ने वैश्विक स्तर पर अपनी एक अनूठी छाप छोड़ी अर्थात चाहे व्यापार के मामला हो, चाहे रक्षा का मामला हो ,चाहे इंडस्ट्री का मामला हो ।रानी विक्टोरिया के समय जनता भी खुश और उद्योगपति भी खुश और उपनिवेशक भी खुश। लेकिन 1901 में जब रानी विक्टोरिया की मृत्यु हो जाती है। मृत्यु होने के परिणाम स्वरूप ब्रिटेन में कई दिनों तक शोक दिवस मनाया गया ऐसा नहीं है शोक दिवस भारत में भी मनाया गया, क्योंकि भारत उस समय ब्रिटेन की ही नियंत्रण में था। उन्हीं की याद में लॉर्ड कर्जन ने विक्टोरिया मेमोरियल का निर्माण करवाया। लॉर्ड कर्जन ने विक्टोरिया मेमोरियल का निर्माण करवाने के लिए जनता से एक करोड़ ₹500000 का चंदा एकत्र किया इसकी आधारशिला उस समय ब्रिटेन के सम्राट जॉर्ज पंचम ने 4 जनवरी 1906 रखी। लेकिन 1921 में इसे आम जनता के लिए खोल दिया गया कि आम जनता जाकर के विक्टोरिया मेमोरियल को देख सकती है। विक्टोरिया मेमोरियल के अंदर महारानी विक्टोरिया की भव्य मूर्तियां और तस्वीरें लगी हुई है और इसके अंदर एक बड़ा सा म्यूजियम भी बना हुआ है। यह म्यूजियम ब्रिटेन की गौरवमई इतिहास को बताता है।

Victoria Memorial ka Itihas

विक्टोरिया मेमोरियल क्या स्थापत्य कला क्या है?

विक्टोरिया मेमोरियल का डिजाइन अपने समय के प्रसिद्ध आर्किटेक्ट विलियम इमर्शन ने किया था। आर्किटेक्ट विलियम इमर्शन द्वारा निर्मित डिजाइन इस्लामिक स्थापत्य कला और मुगल स्थापत्य कला और इंडो- सारसोनिक स्थापत्य कला से प्रभावित थी। विक्टोरिया मेमोरियल में जो पत्थर का उपयोग हुआ है वह पत्थर सफेद मकराना का संगमरमर है। विक्टोरिया मेमोरियल के वाटिका का डिजाइन लार्ड रीड्डल और डेबिट पेन द्वारा किया गया था। विक्टोरिया मेमोरियल के गुंबद के ऊपर विजय की देवी की मूर्ति स्थापित की गई है। जिसकी लंबाई लगभग 16 फीट है और गुंबद के चारों ओर वास्तुकला न्याय, दान और मातृत्व को प्रदर्शित करने से संबंधित मूर्तियां स्थापित की गई है। विक्टोरिया मेमोरियल को देखने से आपको शाहजहां द्वारा निर्मित ताजमहल की याद आ जाएगी। क्योंकि कहीं ना कहीं आपको ताजमहल की बनावट की झलक देखने को मिल जाएगी। विक्टोरिया मेमोरियल में शाही गैलरी और राष्ट्रीय नेताओं की गैलरी सेंट्रल हाल मूर्तिकला गैलरी हथियार और शस्त्रागार की गैलरी और नई कोलकाता गैलरी से संबंधित 25 चित्र दीर्घाएं भी हैं।

विक्टोरिया मेमोरियल बंद होने और खुलने का समय क्या है?

विक्टोरिया मेमोरियल सप्ताह के सिर्फ 4 दिन मंगलवार, बुधवार ,गुरुवार, शुक्रवार सुबह 10:00 बजे से लेकर के शाम के 6:00 बजे तक ही खुलता है और शनिवार और रविवार को सुबह 10:00 बजे से लेकर के शाम के 8:00 बजे तक खुलता है और सोमवार के दिन बंद रहता है।

विक्टोरिया मेमोरियल को देखते जाते समय किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है:

(1) सबसे पहला ध्यान यह रखना है कि आपको बीड़ी सिगरेट गुटखा पान का सेवन नहीं करना है जब आप विक्टोरिया मेमोरियल के कंपलेक्स में हो।

(2) आपको विक्टोरिया मेमोरियल के अंदर कुछ भी खाने के बाद जैसे कुरकुरे, चिप्स और बिस्किट और चॉकलेट की जो झिल्लियां है। उसे डस्टबिन में डालना है ना कि कम प्लेस के अंदर फेंक देना है।

(3) विक्टोरिया मेमोरियल जाते समय अपने साथ पालतू जानवर को नहीं ले जाना है।

(4) विक्टोरिया मेमोरियल में फोटोग्राफी भी नहीं करना है।

निष्कर्ष:

Victoria Memorial ka Itihas: विक्टोरिया मेमोरियल पश्चिम और इंडियन कल्चर का एक मिश्रित स्थापत्य कला का नमूना है। यह अंदर से भले विदेशी हो। लेकिन बाहर से इंडियन है अर्थात इसके अंदर जाने के बाद आपको ब्रिटिश के गौरवमयी इतिहास के बारे में पता चलता है लेकिन विक्टोरिया मेमोरियल को बाहर से देखने से आपको इंडो इस्लामिक स्थापत्य कला का पता चलता है।

Faq:

(1)विक्टोरिया मेमोरियल कब बना था

विक्टोरिया मेमोरियल 1906 से  1921 के बीच बनवाया गया है। हालांकि इसकी आधारशिला 1906 में ब्रिटिश सम्राट जार्ज पंचम द्वारा रखी गई थी।

(2) विक्टोरिया मेमोरियल की कहानी क्या है?

विक्टोरिया मेमोरियल की कहानी यह है कि यह ब्रिटिश महारानी विक्टोरिया के शान और शौकत को पेश करता है।

(3) विक्टोरिया मेमोरियल किसकी याद में बनवाया गया था

विक्टोरिया मेमोरियल ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया की याद में बनवाया गया था।

(4) रानी विक्टोरिया की मृत्यु किस सन में हुई?

रानी विक्टोरिया की मृत्यु 23 जनवरी 1901 को हुई

(5) रानी विक्टोरिया को कौन सी बीमारी थी

रानी विक्टोरिया को हीमोफीलिया की बीमारी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here