Tokyo Olympics Cash Rewards: भारत के सभी ओलंपिक पदक विजेताओं को प्रोत्साहन के तौर पर नकद पुरस्कार और पदोन्नति प्रदान किए जा रहे हैं। भारत के सभी पदक विजेताओं ने टोक्यो ओलंपिक में एक याद गार छाप छोड़ी है, इतिहास में पहली बार भारत ने ओलंपिक में 7 पदक हासिल किए हैं । जिसमे से 1 एथलेटिक्स में, 2 कुश्ती में, 1 भारोत्तोलन में, 1 हॉकी में, 1 बॉक्सिंग में और 1 बैडमिंटन में। इससे पहले लंदन ओलंपिक 2012 मे भारत ने 6 पदक का रिकॉर्ड बनाया था ये अब तक का सबसे बेहतीन प्रदर्शन माना जाता था पर इस बार हमारे खिलाड़ियों ने पूरे देश को 7 पदक जीत गौरवान्वित किया है।

टोक्यो में भारत का पहला ट्रैक-एंड-फील्ड ओलंपिक स्वर्ण पदक भाला फेंक मे नीरज चोपड़ा द्वारा जीता गया, पी वी सिंधु ने अपने बेहतरीन खेल प्रदर्शन को जारी रखते हुए बैडमिंटन मे कांस्य पदक जीता। लवलीना बोरगोहेन ने मुकेबाजी मे कांस्य पदक जीता, 4 दशकों के इंतजार के बाद पुरुष हॉकी टीम ने ओलंपिक में कांस्य पदक जीता। मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन में रजत जीता , और पहलवान रवि दहिया ने रजत तथा बजरंग पुनिया ने कांस्य पदक हासिल कर देश को नई उम्मीदें दी।

पुरस्कारों की सूची – Tokyo Olympics Cash Rewards

नीरज चोपड़ा (भाला फेंक में स्वर्ण पदक)

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 6 करोड़ रुपए नकद और साथ ही नीरज को सम्मान स्वरूप पंचकुला में आगामी एथलेटिक्स उत्कृष्टता केंद्र का प्रमुख बनाया गया है।
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से उन्हें 2 करोड़ रुपये प्रोत्साहन की तौर पर दिए गए।

आईओए की ओर से 75 लाख रुपये और बीसीसीआई की ओर से 1 करोड़ रुपये दिए गए। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) द्वारा 1 करोड़ भी दिए गए। बता दें कि नीरज के ओलंपिक फाइनल में उनका सबसे लंबा थ्रो 87.58 मीटर था और सीएसके समान के रूप में 8758 नंबर के साथ एक खास जर्सी बनवाएगा
इसके अलावा:
Elan Group: 25 लाख रुपये।
BYJU’S: 2 करोड़ रुपये।
इंडिगो एयरलाइंस से: असीमित मुफ़्त यात्रा 1 साल के लिए।

पीवी सिंधु (बैडमिंटन में कांस्य पदक)

पी वी सिंधु के अपने शहर यानी आंध्र प्रदेश सरकार से 30 लाख रुपये का इनाम दिया गया और साथ ही साथ कुछ पुरुस्कार इस प्रकार हैं:

आईओए: 25 लाख रुपये
बीसीसीआई: 25 लाख रुपये
BYJU’S: 1 करोड़ रुपये

लवलीना बोरगोहेन (मुक्केबाजी में कांस्य पदक) – Tokyo Olympics Cash Rewards

आईओए से: 25 लाख रुपये
BYJU’S से: 1 करोड़ रूपये
बीसीसीआई से: 25 लाख रुपये
असम कांग्रेस: 3 लाख रूपये

मीराबाई चानू (भारोत्तोलन में रजत पदक)

मणिपुर सीएम एन बीरेन सिंह द्वारा: 1 करोड़ रूपये

इसके साथ ही साथ मणिपुर के सीएम एन बीरेन सिंह ने मीराबाई चानू को राज्य पुलिस विभाग में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बनाया जाएगा
रेल मंत्री वैष्णव से: 2 करोड़ रूपये
बीसीसीआई से: 50 लाख रुपये
आईओए से: 40 लाख रुपये
BYJU’S से: 1 करोड़ रुपये

भारतीय पुरुष हॉकी टीम (कांस्य पदक)

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से सुरेंद्र कुमार तथा सुमित दोनों खिलड़ियों को सरकारी नौकरी और 2.5-2.5 करोड़ रुपए दिए। और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (HSVP) द्वारा भूखंड रियायती दरों पर दी जाएगी।
इसके साथ ही साथ:
BYJU’S: 1 करोड़ रूपये
आईओए: 25 लाख रुपये
बीसीसीआई:पूरी टीम को 1.25 करोड़

रवि दहिया (कुश्ती में रजत पदक) – Tokyo Olympics Cash Rewards

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की तरफ से सरकारी नौकरी,4 करोड़ रूपये और रियायती दर पर एचएसवीपी प्लॉट।
आईओए: 40 लाख रुपये
BYJU’S: 1 करोड़ रूपये
बीसीसीआई: 50 लाख रुपये

बजरंग पुनिया (कुश्ती में कांस्य पदक)

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की ओर से बजरंग पुनिया को सरकारी नौकरी के साथ ही साथ 2.5 करोड़ रुपये दिए। इसके अतिरिक्त रियायती दर पर एचएसवीपी प्लॉट भी ले सकते हैं पुनिया।
BYJU’S: 1 करोड़ रुपये
बीसीसीआई: 25 लाख रुपये
आईओए: 25 लाख रुपये

खिलाड़ियों हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की ओर से बजरंग पुनिया को सरकारी नौकरी के साथ ही साथ 2.5 करोड़ रुपये दिए। इसके अतिरिक्त रियायती दर पर एचएसवीपी प्लॉट भी ले सकते हैं पुनिया।
BYJU’S: 1 करोड़ रुपये
बीसीसीआई: 25 लाख रुपये
आईओए: 25 लाख रुपये

Tokyo Olympics Cash Rewards के अतिरिक्त भी इन सभी खिलाड़ियों को कई तरह के सम्मान से नवाज़ा गया है, और वह इसके हकदार भी हैं।

ये भी पढ़े: ओलंपिक्स में हार के बाद कोच विवाद’ पर मनिका बत्रा ने तोड़ी चुप्पी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here