Roman Saini IAS : जिस पद के लिए लोग सालों साल मेहनत करते हैं, वह पद और मुकाम हासिल करने के बाद रोमन सैनी ने कुछ अलग व बड़ा करने के लिए अपनी IAS की नौकरी को अलविदा कह दिया था।

बता दें कि उन्होंने छह साल पहले अपनी जॉब छोड़ खुद की कंपनी यानी अनएकेडमी की नींव रखी, और तब काफी लोगों को इस बात से हैरानी हुई।

आइए जानते है रोमन सैनी की कहानी – Roman Saini IAS

The-story-of-Roman-Saini-who-left-IAS-job-and-created-a-business-of-14,000-crores

बेहद कम उम्र से तय कर लिया था कामयाबी का सफर

रोमन सैनी बचपन से ही सुपर टैलेंटेड रहे हैं, उन्होंने महज़ 16 साल की कम उम्र में ही AIIMS के परीक्षा को बड़ी आसानी से पास कर लिया था।

आपको बता दें कि रोमन सैनी आज के समय में देश के गरीब बच्चों को सिविल सेवा परीक्षा की ऑनलाइन तरीके से तैयारी करने में सहायता करते हैं।

इतना ही नहीं AIIMS की परीक्षा पास करने के बाद उन्होंने आईएएस बन अपने मां-बाप का सिर ऊंचा कर दिया। और जब छह साल पहले अपनी जॉब छोड उन्होंने खुद की कंपनी अनएकेडमी को खोलने का फैसला किया, तब कई लोगों को काफी हैरानी हुई थी ।

देश में हासिल किया था 18वां रैंक

पूर्व IAS ऑफिसर रोमन सैनी राजस्थान के कोटपुतली में स्थित रायकरनपुर से हैं। उनकी मां एक गृहिणी और उनके पिता एक इंजीनियर हैं। एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद रोमन सैनी ने एनडीडीटीसी में एक जूनियर रेजिडेंट के तौर पर काम किया।

महज 22 साल की उम्र में उन्होंने IAS की मुश्किल परीक्षा पास कर ली और 23 साल की उम्र में वह प्रशासनिक सेवक बन गए। आपको बता दें कि उन्होंने IAS की परीक्षा में पूरे देश में हासिल किया था 18वां रैंक।

जानें डॉक्टर से IAS बनने का सफर

The story of Roman Saini who-left IAS job and created a business of 14,000 crores

रोमन सैनी ने बताया कि साल 2011 में जब वह एक डॉक्टर के रूप में कुछ मेडिकल कैंप में गए तो उन्हें महसूस हुआ कि गरीबी एक बेहद ही खतरनाक चीज है। और लोगों में उनकी सेहत, पानी और साफ-सफाई की परेशानी को लेकर जागरुकता का बेहद अभाव था।

यह बेहद मूल समस्याएं हैं, इनका निदान करना बहुत जरूरी है। और एक डॉक्टर के रूप में वह उनकी समस्या दूर करने में असमर्थ थें।

तभी उन्होंने फैसला किया कि वह अपने देश के लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए सिविल सेवा में जाएंगे।

बच्चों की पढ़ाई है बहुत जरूरी – Roman Saini IAS

देश के लाखों बच्चे की पढ़ाई के लिए रोमन ने अपने सपने वाली IAS की नौकरी को छोड़ दिया। और फिर उन्होंने युवाओं की बेहतर पढ़ाई के लिए अपना बिजनेस यानी अनएकेडमी को शुरू करने का फैसला लिया।

बता दें कि अनएकेडमी का हेडक्वार्टर बेंगलुरु में स्थित है। और अनएकेडमी की वैल्यूएशन आज के समय में 14000 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है।

आपको बता दें की अनएकेडमी एक ऐसा ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म है, जहां लोगों को आईएएस के साथ ही साथ 35 विभिन्न तरह के परिक्षाओं की तैयारी कराई जाती है। और यू-ट्यूब से लेकर ऐप तक अनएकेडमी युवाओं के बीच काफी हद तक पॉपुलर है।

दोस्तों के साथ मिलकर बनाई कंपनी

रोमन का मन IAS बनने के बाद भी नहीं लगा। और फिर Roman Saini ने देश के बच्चों के लिए काम करने का फैसला किया जो की पढ़ने में बहुत अच्छे हैं लेकिन उन्हें सही मार्गदर्शन नहीं मिल पाता है।

जिसके वजह से वह बच्चे प्रतियोगी परीक्षा में असफल हो जाते हैं। रोमन ने इसी बात के वजह से यह फैसला किया कि वह ऐसे युवाओं को फ्री ऑनलाइन कोचिंग के जरिये मदद करेंगे।

और फिर Roman Saini ने ‘Unacademy’ को शुरू किया। अपने दोस्त गौरव मुंजाल के साथ मिलकर वह इस ऑनलाइन वेबसाइट को चलाते हैं।

रोमन Unacademy के जरिए कई बच्चों व युवाओं की मदद कर रहे हैं जो सिविल सर्विस एग्जाम देना चाहते हैं। Roman Saini IAS, वह आज के समय में हजारों बच्चों का मार्गदर्शन करते हैं।

और रोमन का IAS की नौकरी छोड़ इस 14000 करोड़ के बिजनेस को खोलने का फैसला आज उन्हें खुशी देता है, क्योंकि इससे वह देश के लिए कई IAS तैयार कर रहे हैं।

ये भी पढ़े : अफगानिस्तान में तालिबानी तानाशाही के बीच वायुसेना का विशेष विमान भारतीयों को लेकर हिंडन एयरबेस पहुंचा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here