सुपारी के औषधीय गुण शरीर के कई अंगो के लिए है लाभदायक

0
2686
supari ke fayde

Supari Khane Ke Fayde: दोस्तों आज मैं ऐसे विषय पर चर्चा करने वाला हूं। जिसका उपयोग गुटखा और तंबाकू में होता है। यदि इसका सेवन सही अनुपात में ना किया जाए तो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी हो सकता है। लेकिन यदि इसका सेवन स्वतंत्र रूप से अकेले ही किया जाए। और इसमें कोई भी तत्व और ना मिलाया जाए। तब यह शरीर के लिए लाभदायक भी हो सकता है। इसका नाम है सुपारी। सुपारी का उपयोग प्राचीन काल से उल्टी ,दस्त और दांत के दर्द को दूर करने के लिए उपयोग होता आ रहा है हालांकि जब से एलोपैथिक मेडिसिन बाजार में उपलब्ध हो गई है तब से हम आयुर्वेद की ओर मुड़कर करके भी नहीं देख रहे हैं। लेकिन आयुर्वेद में ऐसी शक्ति है जो हमारी बीमारी को ठीक तो करता ही है। और साथ ही साथ इसके उपयोग से कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होता है शरीर पर। तो चलिए आइए जानते हैं कि सबसे पहले सुपारी क्या है|

सुपारी क्या है? (Supari Kya Hai)

एरिका कटेचू नामक पौधे का बीज है सुपारी। सुपारी भारत और अफगानिस्तान और साथ ही साथ कजाकिस्तान और पाकिस्तान में पाया जाता है। और साथ ही साथ दक्षिण पूर्व एशिया जैसे ब्रूनेई, म्यांमार और साथ ही साथ इंडोनेशिया थाईलैंड आदि देशों में भी पाया जाता है और अफ्रीका के कुछ देशों में पाया जाता है।

सुपारी में पाए जाने वाला पोषक तत्व कौन -कौन सा है? (Supari Me Paye Jane Vale Poshak Tatva Kon Kon Sa Hai)

(1) प्रोटीन

(2) फैट

(3) कैल्शियम

(4) विटामिन बी1

(5) विटामिन बी2

(6) सोडियम

(7) पोटेशियम

(8) फास्फोरस

(9) लोहा

सुपारी शरीर में होने वाले किस-किस रोगों के लिए लाभदायक है? (Supari Sharir Me Hone Vale Kis Rog Me Faydemand Hai | Supari Khane Ke Fayde)

(1) वॉमिटिंग रोकने में सहायक

सुपारी में ऐसे -ऐसे एलिमेंट पाए जाते हैं जो वॉमिटिंग को रोकने में काफी हद तक कारगर है। इसका कारण है सुपारी में पाए जाने वाला anti-inflammatory एलिमेंट।

(2) दांत के दर्द को दूर करने में कारगर

सुपारी दांत के दर्द को भी दूर करने में कारगर है क्योंकि सुपारी की तासीर ठंड होती है। जिसके ठंडक के एहसास से दांत का दर्द कम होने लगता है।

(3) सुपारी मुंह के छालों को भी ठीक करता है

सुपारी मुंह के छालों को भी ठीक करता है। गर्मियों के दिन में मुंह में छाला पड़ जाता है। जिसके परिणाम स्वरूप खाने-पीने में काफी समस्या होने लगती है। इस समस्या से निजात पाने के लिए सुपारी का सेवन करिए। इससे आपके मुंह में जो छाले पड़े हैं ।उन छालों से काफी राहत मिलेगी।

(4) दस्त को रोकने में भी सहायक

सुपारी दस्त को भी रोकने में सहायक है ।क्योंकि सुपारी में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी बैक्टीरियल जैसे गुण पाए जाते हैं ।जो दस्त की समस्या को काफी हद तक ठीक कर सकते हैं।

सुपारी के सेवन से शरीर पर क्या दुष्प्रभाव पड़ता है? (Supari Ke Sevan Se Sharir Par Kya Dusprabhav Hota Hai | Nuksan)

(1) यदि सुपारी का अधिक मात्रा में सेवन किया जाए इससे मसूड़े और दांत क्षतिग्रस्त हो सकते हैं।

(2) इसका एक और नुकसान है कि इसके अधिक सेवन से रक्तचाप बढ़ जाता है।

(3) एलर्जी की भी समस्या उत्पन्न हो सकती है।

सुपारी का उपयोग कैसे करें? (Supari Ka Upyog Kaise Karen)

सुपारी का उपयोग चाय में डालकर या तो गुनगुने पानी में या तो काढ़ा बनाकर या तो पीसकर स्किन पर लगाने के रूप में प्रयोग कर सकते हैं।

निष्कर्ष

सुपारी के सेवन से दांत के दर्द ठीक हो जाते हैं और मुंह के छाले भी ठीक हो जाते हैं और उल्टी और दस्त की समस्या भी दूर हो जाती है और साथ ही साथ इसमें कैल्शियम, विटामिन बी और फैट और साथ ही साथ प्रोटीन भी पाया जाता है।

सामान्य प्रश्न

(1) महिला सुपारी क्यो खाती है ?

महिला आजकल सुपारी इसलिए खाती हैं जिससे उनकी योनि का मार्ग सिकुड़ जाए और काम क्रिया में अधिक आनंद प्राप्त कर सके।

(2) महिला को सुपारी खाने से क्या फायदा मिलता है?

महिला को सुपारी खाने से एनीमिया और कब्ज गैस जैसे रोग नहीं होते हैं।

(3) सुपारी में नशा होता है क्या?

छः कप काफी में जितना नशा होता है उतना नशा एक सुपारी में होता है।

(4) सुपारी में क्या पाया जाता है?

एक रिसर्च के मुताबिक सुपारी में अवसाद रोधी गुण भी पाया जाता है।

(5) सुपारी को भारत के अलग-अलग राज्यों में किस नाम से जाना जाता है

सुपारी को मेघालय में क्वै और गुई और असम और  नागालैंड में तमूल के नाम से जाना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here