जानिए क्या है सोने का सही तरीका, उल्टा, सीधा, या करवट लेकर (Sone Ka Sahi Tarika)

0
3650
sone ka sahi tarika

हर व्यक्ति चाहता है कि जब मैं रात को सोउ तो मुझे अच्छी नींद आए। लेकिन कई बार ऐसा हो जाता है कि व्यक्ति रात भर करवटें बदलता रहता है उसे नींद ही नहीं आती है। लेकिन अब आपके मन में प्रश्न उठ रहा होगा कि किस तरीके से सोउ की रात में मुझे अच्छे से नींद आ जाए। आज मैं इस आर्टीकल  के माध्यम से आपको सोने का सही तरीका (Sone Ka Sahi Tarika) बताऊंगा।

यदि मेरी आर्टिकल को आप अक्षरशः पालन करते हैं ।आप प्रतिदिन अच्छी नींद के मालिक बन सकते हैं ।क्योंकि अच्छी नींद से ही आप स्वस्थ जीवन जी सकते हैं ।क्योंकि इससे ही आप की कोशिकाएं रेस्ट कर सकती हैं ।यदि आपका शरीर का कोई भी अंग अस्वस्थ रहेगा। तब आपका पूरा शरीर अस्वस्थ रहेगा ।इसीलिए आर्टीकल में जो भी जानकारी बताई जाए। आपको किसी भी जानकारी को मिस नहीं करना है। यदि आप पूरी आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पढ़ते है। इससे आपको सोने का सही तरीका पता चल जाए।

सोने से पहले क्या करे? (Sone Se Pehle Kya Karna Chahiye| What to Do Before Sleeping in Hindi)

(1) सोने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना है कि आपके बिस्तर पर कोई एक आरामदायक पिलो होना चाहिए ।जिसके माध्यम से आपको अच्छी नींद आ सकती है।

(2) जब आप सोने जा रहे हो तब इससे पहले आपको अपने पैर को अच्छी तरह से धो लेना चाहिए । और पैर में सरसों के तेल की अच्छी मालिश कर लेना चाहिए। क्योंकि इसके माध्यम से आपको आसानी से नींद आ सकती है।

(3) सोने से पहले आप प्राणायाम कर ले। जिससे आपका मन शांत हो और आपके विचारों का प्रवाह रुके और आपको एक अच्छी नींद आए।

(4) सोने से पहले आप लगभग 10 मिनट बैठकर विपासना करें जिससे आपका मन शांत हो सके। और आप अच्छी तरीके से सो सकें ।क्योंकि विपासना करने से आपकी नींद की क्वालिटी बढ़ती है और क्वांटिटी घटती है।

(5) सोने से पहले आप कोई मोटिवेशनल सॉन्ग या कोई मोटिवेशनल स्पीच जरूर सुने। जिससे आपका मन एकाग्र होगा और अपने लक्ष्य के प्रति समर्पण भी होगा जिसके परिणाम स्वरूप आपको गहरी नींद आएगी।

सोने का सही तरीका क्या है? (Sone Ka Sahi Tarika Kya Hai | Best Sleeping Position for Good Health in Hindi)

अब बात आती है कि किस तरह से और किस पोजीशन में सोए जिससे मुझे अच्छी नींद आ जाए तो आइए जानते हैं कि सोने का क्या क्या पोजीशन (Sone Ka Sahi Tarika) हो सकता है?

Sone ka Sahi Tarika

(1) पीठ के बल सोए (Sleeping on Your Back)

Sone Ka Sahi Tarika: यदि आप प्रतिदिन पीठ के बल सोते हैं। इससे ना केवल आपकी नींद की गुणवत्ता बढ़ेगी ।अपितु आपके शरीर को इससे ढेरों लाभ होगा। जैसे कि आपको कभी कमर दर्द नहीं होगा। और साथ ही साथ आपको कभी अर्थराइटिस (Arthritis) जैसे रोग नहीं होगा ।और आपके मस्तिष्क पर सही ब्लड सरकुलेशन होने के कारण आपके न्यूरॉन्स एक्टिव रहेंगे ।जिससे आपकी याददाश्त क्षमता बढ़ेगी। और साथ ही साथ यदि आपको माइग्रेन की समस्या है तब आपको माइग्रेन की समस्या से निजात मिलेगी। और आपकी मस्तिष्क का हाइपोथैलेमस भाग काफी एक्टिव रहेगा।

(2) बाई करवट के बल सोए (Sleeping On Your Left Side)

Sone Ka Sahi Tarika: यदि आप बाई करवट के सहारे सोते हैं तब आपका पाचन क्रिया स्ट्रांग बनेगी और साथ ही साथ कब्ज और मधुमेह जैसी बीमारियां आपके पास कभी नहीं भटकेंगी और साथ ही साथ यदि आपको कमर का दर्द है बाई करवट के बल सोने से कमर का दर्द छूमंतर हो जाएगा। और साथ ही साथ यदि आप कोई डरावना सपने देखते हैं तब बाई करवट के बल सोने से सपने की आवृत्ति में कमी आएगी। जिसके परिणाम स्वरूप आप गहरी निद्रा में जा सकेंगे । और बाई  करवट के सबसे बड़ा फायदा होता है कि आप जो भी आहार प्रतिदिन लेते हैं वह आहार आपके शरीर में लगेगा और आपका शरीर हष्ट पुष्ट बनेगा और आपका  बाइसेप्स से भी स्ट्रांग होगा।

सोने से पहले क्या सावधानियां बरतनी है? (Sone Se Pehle Kya Savdhaniya Bartani Hai | Precautions Before Sleeping in Hindi)

(1) आपको कभी भी अपने मस्तिष्क को उत्तर दिशा में करके नहीं सोना चाहिए क्योंकि उत्तर दिशा में चुंबकीय प्रभाव ज्यादा होता है। जिसके परिणाम स्वरूप ब्लड सरकुलेशन में समस्या हो सकती है। यदि आप इस समस्या से बचना चाहते हैं ।तब आपको अपने सिर को दक्षिण दिशा में करके सोना चाहिए ।इससे आपके ऊपर कोई भी चुंबकीय प्रभाव नहीं पड़ेगा।

(2) यदि आप सोने जा रहे हैं तो आपको सुनिश्चित कर लेना है कि आपको पेट के बल नहीं सोना है यदि आप पेट के बल सोते हैं। तब आपको कई बीमारियां हो सकती हैं जैसे की कब्ज और साथ ही साथ माइग्रेन और साथ ही साथ ब्लड सरकुलेशन की यदि आप इन सब बीमारियों से बचना चाहते हैं तो आप भूल कर भी पेट के बल कभी न सोए, ये sone ka sahi tarika नहीं है अन्यथा परिणाम नकारात्मक होगा जो आपके स्वास्थ्य के लिए हितकर नहीं होगा।

(3) ध्यान देने योग्य वाली बात यह है कि यदि आप सोने जा रहे हैं तो आपको दाईं करवट लेकर नहीं सोना है क्योंकि जब आप दाई करवट लेकर सोते हैं ।तब इसका प्रभाव आपके फेफड़े , लिवर और पेट पर पड़ता है जिससे आपको भविष्य में इससे कई बीमारियां हो सकती हैं- जैसे कि हार्ट अटैक और लीवर सिरोसिस जैसी बीमारियां।

यह भी पढ़े: तनाव से लड़ने में इन 5 खाने की चीज़ों से मिलेगी मदद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here