शादीशुदा महिलाएं सिंदूर क्यों लगाती हैं

0
1312

Shadishuda Mahila Sindoor Kyu Lagati Hai: ओम शांति ओम मूवी में एक डायलॉग है “एक चुटकी सिंदूर की कीमत तुम क्या जानो रमेश बाबू ईश्वर का आशीर्वाद होता है, एक चुटकी सिंदूर” इस मूवी ने यह याद दिलाया सिंदूर जो होता है वह भारतीय कल्चर का अभिन्न हिस्सा है और साथ ही साथ यह एक आस्था का प्रतीक भी है। स्त्रियों को यह विश्वास होता है कि सिंदूर लगाने से उनकी पत्नी की उम्र बढ़ती है और उनकी पति की अकाल मृत्यु भी नहीं होती है। लाल रंग का सिंदूर शक्ति का प्रतीक भी होता है। बॉलीवुड की बहुत सारी मूवीओं में यह दृश्य जरूर फिल्माया जाता है कि किसी लड़की की मांग में सिंदूर भर देने से वह स्त्री सुहागन हो जाती है और वह स्त्री उस पुरुष की पत्नी अपने आप को मानने लगती है। मनुस्मृति में वर्णित सोलह श्रृंगार उनमें से एक श्रृंगार सिंदूर भी है। बदलते वक्त के साथ आजकल की महिलाएं सिंदूर को अपनी मांग पर टीका भी करती है।

सिंदूर का इतना महत्व क्यों है?

आपको बता दें कि सिंदूर को बहुत समय से भारतीय शादीशुदा महिलाएं अपने मांग में भरती चली आ रही हैं। वाल्मीकि कृत रामायण में इसकी जानकारी है मां सीता भी राम की दीर्घायु के लिए अपने मांग में सिंदूर लगाती थी। जिससे भगवान श्री राम की उम्र लंबी हो उनके जीवन में जो भी कष्ट आए उन कष्टों का निवारण तुरंत हो जाए। यहां तक की रामायण में एक जानकारी यह भी मिलती है कि एक बार मां सीता अपने श्रृंगार गृह में सिंदूर लगा रही थी तब मां सीता से हनुमान जी ने पूछा कि सिंदूर आप क्यों लगाती है इससे क्या होता है मां सीता ने मुस्कुराते हुए कहा कि सिंदूर लगाने से आपके प्रभु खुश भी होते हैं और साथ ही साथ आपकी प्रभु की उम्र भी बढ़ती है। इसको सुनने के बाद हनुमान जी अपने पूरे शरीर पर सिंदूर लगा लिए उनको ऐसा विश्वास था कि यदि प्रभु श्रीराम देखेंगे तो बहुत खुश होंगे और ऐसा हुआ भी। भगवान श्रीराम ने मारुति नंदन को यह आशीर्वाद दिया कि जो भी भक्त श्रद्धा भाव से बजरंगबली को सिंदूर चढ़ाएंगा उस भक्तों की मनोकामना पूर्ण होगी। कालांतर में हनुमान जी को सिंदूर चढ़ाया जाता है।

Shadishuda Mahila Sindoor Kyu Lagati Hai?

(1) इससे दांपत्य जीवन में मधुराहट आती है और पति की अकाल मृत्यु नहीं होती है। दीपावली के अवसर पर पति अपनी पत्नी की मांग में सिंदूर लगाता है इससे उन दोनों के बीच में रिश्ता और गहरा हो जाता है।

(2) शादीशुदा महिलाएं अपनी मांग में सिंदूर इसलिये लगाती है क्योंकि इससे उनको विश्वास रहता है कि वह अधिक आकर्षक और सुंदर दिखेंगी और माता पार्वती अखंड सौभाग्यवती का आशीर्वाद भी देती हैं।

(3) शादीशुदा महिलाओं को अपने मांग में सिंदूर अवश्य लगाना चाहिए। इससे उनके घर में पैसों की कमी कभी नहीं होगी। आपको बता दें कि माता लक्ष्मी को सिंदूर बहुत पसंद है और उनके सम्मान का प्रतीक भी है जो शादीशुदा महिलाएं अपने मांग में सिंदूर भरती हैं उनके घर में धन वर्षा होती है।

(4) सिंदूर लगाने का कारण यह भी है इससे सुहागिन महिलाओं कि सर में दर्द कभी नहीं होता है और साथ ही साथ उन्हें जीवन भर अनिद्रा की प्रॉब्लम कभी नहीं होती है।

(5) सिंदूर में पारा नामक धातु पाया जाता है जो भी शादीशुदा महिलाएं अपने मांग को सिंदूर से सजाती हैं उनके चेहरे पर कभी भी पिंपल्स नहीं होते हैं और साथ ही साथ चेहरे पर झुर्रियां भी नहीं पड़ती है उनके चेहरे पर एक आकर्षण का तेज रहता है।

सिंदूर को खरीदने से पहले बरते निम्नलिखित सावधानियां

(1) सिंदूर को आप जब भी दुकान से खरीदे तो ध्यान रखने वाली बात यह है कि कम कीमत वाला सिंदूर नहीं खरीदना है जो अच्छी गुणवत्ता का सिंदूर हो और जिसकी कीमत ज्यादा हो उसी सिंदूर को खरीदना है और साथ ही साथ खुले हुए सिंदूर को कभी भी नहीं खरीदना है।

(2) यदि आप लिक्विड सिंदूर खरीदने की योजना बना रहे हैं तो लिक्विड सिंदूर को खरीदने से पहले ब्रांड की जांच परख कर ले उसके बाद ही लिक्विड सिंदूर खरीदें।

(3) यदि आप सूखा सिंदूर खरीदना चाहते हैं तो आप हमेशा एक बात याद रखना जब भी आप सुखा सिंदूर खरीदें तो वह हर्बल ब्रांड का होना चाहिए ना की कोई केमिकल वाला हो।

(4) यदि आप सिंदूर को किसी तीर्थ स्थल पर खरीद रहे हैं तब आपको बड़ी सतर्कता के साथ खरीदनी चाहिए क्योंकि सिंदूर में मिलावट भी हो सकती है।

Shadishuda Mahila Sindoor Kyu Lagati Hai

निष्कर्ष:

shadishuda mahila sindoor kyu lagati hai: सुहागिन महिलाएं अपने पति के लंबी उम्र के लिए अपने सुनी मांग में सिंदूर लगाती है। इससे उनको यह विश्वास रहता है कि उनके पति को कोई भी दुर्लभ बीमारी नहीं होगी।

Faq:

(1) सिंदूर लगाने के नुकसान क्या है?

सिंदूर लगाने का सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि चेहरे में खुजली होने लगती है।

(2) सिंदूर कब नहीं लगाना चाहिए

किसी दूसरी सुहागिन स्त्री से सिंदूर मांगकर कभी भी नहीं लगाना चाहिए यह अमंगलकारी होता है।

(3) दिन में कितनी बार सिंदूर लगाना चाहिए

दिन में सिंदूर को एक बार लगाना चाहिए।

(4) पति के हाथ से सिंदूर लगाने से क्या होता है?

पति के हाथ से सिंदूर लगाने से पति और पत्नी के बीच प्रेम का संबंध प्रकार होता है।

(5) सिंदूर नाक पर गिरने से क्या होता है?

पति अपनी पत्नी की मांग में सिंदूर भरता है तो उस समय यदि सिंदूर नाक पर भी गिर जाए तो यह बहुत शुभ माना जाता है शास्त्रों के अनुसार तब पति अपनी पत्नी को अपने मन मंदिर में रखेगा।

(6) सिंदूर में कौन सा धातु पाया जाता है?

सिंदूर में पारा नामक धातु पाया जाता है।

(7) नहाने की कितनी देर बाद सिंदूर को लगाना चाहिए

सुहागिन महिलाओं को नहाने के तुरंत बाद सिंदूर को नहीं लगाना चाहिए क्योंकि इससे आर्थिक हानि होती है नहाने के 1 घंटे बाद सिंदूर लगाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here