SEO क्या है?

0
1737
SEO Kya Hai

SEO Kya Hai: सन 2016 से जब से जिओ लांच हुआ है तब से बहुत सारे फ्रीलांसर अपनी वेबसाइट के माध्यम से पैसे Earning कर रहे हैं। क्योंकि आज के समय में इंटरनेट डाटा की कीमत बहुत कम है। इसीलिए हर व्यक्ति किसी न किसी माध्यम से पैसे कमाने की सोचता है कई लोग यूट्यूब वीडियो बनाने लगते हैं। कई लोग ब्लॉगर बन जाते हैं। जो ब्लॉगर बन जाते हैं उसमें से कई लोग सफल हो जाते हैं और कई असफल हो जाते हैं। ध्यान देने वाली बात यह है कि जो Blogger असफल होते हैं उसका प्रमुख कारण है SEO. SEO का मतलब है Search Engine Optimization यानी अपनी वेबसाइट को गूगल के अनुकूल बनाना। जिससे कि गूगल में आपकी वेबसाइट फर्स्ट रैंक पर शो हो सके। इन्हीं सब उद्देश्यों की पूर्ति के लिए SEO किया जाता है। हालांकि SEO के विषय में यदि जानकारी ना हो तो SEO कठिन हो जाता है ।लेकिन आज हम इन्हीं सब पर चर्चा करने वाले हैं कि SEO क्या है कैसे काम करता है आदि जानकारी पर विस्तार से चर्चा करेंगे।

SEO क्या है ?

SEO के माध्यम से हम अपनी ब्लॉग की वेबसाइट को गूगल की फर्स्ट पेज के पहले नंबर पर सो कराते हैं जैसे कि हमने कोई आर्टिकल लिखा यदि आर्टिकल हमारा फर्स्ट पेज के पहले नंबर पर शो नहीं कर रहा है तो हमें समझ लेना चाहिए कि हमने सही ढंग से SEO नहीं किया है। यदि यह SEO नहीं रहेगा तो गूगल सही से इंडेक्स को इंडेक्स नहीं करा पाएगा क्योंकि गूगल को आर्टिकल को इंडेक्स कराने के लिए कंटेंट को ऑप्टिमाइज करना पड़ता है जिससे हमारा कंटेंट पहले नंबर पर सो कर सके।

SEO करने का उद्देश्य क्या है ?

SEO का उद्देश्य यह होता है कि हमारी वेबसाइट गूगल पर पहले पेज पर नंबर एक पर शो करा सके। इसीलिए हम आर्टिकल को बेहतर तरीके से लिखते हैं। बेहतर तरीके से मतलब यह है कि कंटेंट यूनिक होना चाहिए और साथ ही साथ आपका ग्राफिक इमेज ऑप्टिमाइज होना चाहिए और इसके अलावा किस स्थान पर ऐड लगाना है उसका स्थान भी सुनिश्चित होना चाहिए और इसके अलावा लिंक किस स्थान पर लगाना है उसको सही से लगाना चाहिए इन्हीं सब उद्देश्यों की पूर्ति के लिए हमें यह सब करना पड़ता है। जब हम SEO करेंगे तभी हमारी वेबसाइट पर विजिटर आएंगे जब विजिटर आएंगे तभी हमारी वेबसाइट की Earnning भी बढ़ेगी। हम सब जानते हैं कि यदि हमारी वेबसाइट खराब रहेगी तो कोई भी विजिटर नहीं आएगा। क्योंकि आपके द्वारा लिखा गया आर्टिकल 12 वे नंबर पर शो कर रहा है तो वहां तक कोई विजिटर पहुंच ही नहीं पाएगा तो कोई कैसे आपके आर्टिकल को देख पाएगा। इसीलिए इन्हीं सब उद्देश्यों की पूर्ति के लिए हमें SEO करना पड़ता है जिससे हमारी वेबसाइट को गूगल सही तरीके से क्रॉल कर पाए। पेज को यदि सही तरीके से क्रॉल नहीं कर पाएगा तो अच्छा प्रदर्शन नहीं करेगी।

SEO कितने प्रकार का होता है ?

ऑन पेज SEO Kya Hai?

On-Page SEO: ऑन पेज SEO में हम आर्टिकल के इंटरनल फैक्टर पर कार्य करते हैं जैसे कि मेटा टैग, कीवर्ड रिसर्च और साथ ही साथ इमेज ऑप्टिमाइजेशन, मेटा डिस्क्रिप्शन अपडेशन और इंटरनल लिंकिंग जैसे वर्क करना पड़ता है ऑन पेज SEO के लिए।

ऑफ पेज SEO Kya Hai?

On-Page SEO

Off-Page SEO in Hindi: ऑफ पेज SEO में हम अपनी वेबसाइट पर काम नहीं करते हैं बल्कि हम दूसरी वेबसाइट पर बैकलिंक के माध्यम से काम करते हैं। जिसमें प्रोफाइल क्रिएशन और गेस्ट पोस्टिंग शामिल है।

Off-Page SEO

टेक्निकल SEO क्या होता है ?

Technical SEO in Hindi: टेक्निकल SEO में हम वेबसाइट के टेक्निकल फैक्टर पर काम करते हैं जैसे कि वेबसाइट लोडिंग स्पीड कितनी है और साथ ही साथ साइटमैप को सबमिट करना। जिससे आसानी से गूगल में हमारा वेबसाइट इंडेक्स हो सके गूगल हमारे सबमिट आर्टिकल को क्रॉल भी कर सके।

SEO Benefits in Hindi | SEO करने के फायदे क्या होते है?

(1) हमारी वेबसाइट सर्च इंजन के फर्स्ट पेज पर सो कर सके

(2) ऑर्गेनिक ट्रैफिक आता है

(3) वेबसाइट की अथॉरिटी बढ़ती है

(4) गूगल को आप की वेबसाइट पर ट्रस्ट बढ़ जाता है।

निष्कर्ष:

SEO के  माध्यम से हम अपनी वेबसाइट पर ऑर्गेनिक विजिटर बढ़ा सकते हैं। जिससे हमारी वेबसाइट की वैल्यू बढ़ती है और उसके अलावा हमारी वेबसाइट को एक यूनिक पहचान भी मिलती है इन्हीं सब उद्देश्यों के लिए यह SEO किया जाता है।

(1) SEO का फुल फॉर्म क्या है?

SEO का फुल फॉर्म सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन है

(2) SEO कितने प्रकार का होता है?

SEO 3 प्रकार का होता है ऑन पेज SEO, ऑफ़ पेज SEO और टेक्निकल SEO

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here