सफेद मूसली खाने के ये हैं 11 फायदे, बनाता है शरीर को फौलादी

0
3091
Safed Musli Ke Fayde

दोस्तों आज इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे कि सफेद मुसली (Safed Musli) क्या होता है? और इसके फायदे क्या है? और किन किन राज्यों में यह पाया जाता है? और साथ ही साथ इसके  सेवन के क्या नुकसान है ? आदि जानकारी आपको इस आर्टीकल में दी जाएगी ।आपको आर्टीकल के किसी भी पार्ट को स्किप नहीं करना है। यदि आप आर्टिकल की किसी भी पार्टी को स्किप करते हैं तब आपको अधूरी जानकारी प्राप्त होगी ।जिसके परिणाम स्वरूप आप सभी सफेद मुसली के फायदे (Safed Musli Ke Fayde) से वंचित हो जाएंगे।

सफेद मूसली क्या है ? (What is Safed Musli | Safed Musli Kya Hota Hai)

सफेद मूसली एक पौधा है जिसका फूल सफेद होता है। इसी कारण इसका नाम सफेद मूसली रखा गया। आयुर्वेद में से व्हाइट गोल्ड या दिव्य औषधि के नाम से जाना जाता है।

सफेद मूसली के फायदे क्या है ? (Safed Musli Benefits in Hindi | Safed Musli Ke Fayde)

सफेद मूसली के सेवन से बहुत सारे फायदे होते हैं ।जैसे कि डायबिटीज कंट्रोल रहता है ।अर्थराइटिस (Arthritis) का रोग दूर होता है, साथ ही साथ कैंसर से बचाव होता है और कामोत्तेजना को बढ़ाता है । जिससे आपकी सेक्स लाइफ अच्छी होती है।

तो आइए जानते हैं एक-एक करके इसके फायदे क्या हैं, हमारे शरीर के लिए?

(1) शीघ्रपतन को रोकने में सहायक है (Safed Musli for Premature Ejaculation)

यदि आप आधा चम्मच सफेद मूसली पाउडर को मिश्री और दूध के साथ दिन में दो बार लेते हैं। वह भी खाना खाने के बाद आपकी शीघ्रपतन की समस्या दूर हो जाएगी । और आपका दांपत्य जीवन खुशहाली से व्यतीत होगा क्योंकि यह आपके शीघ्रपतन को रोकने में बहुत ही सहायक है।

(2) सेक्स पावर को बढ़ाने में उपयोगी (Safed Musli for Sex Stamina)

यदि आप आधा चम्मच मुसली पाउडर को हल्के गुनगुने दूध के साथ दिन में दो बार खाना खाने के बाद सेवन करते हैं| इससे आपकी काम योजना बढ़ेगी जिसके परिणाम स्वरूप आपका टेस्टोस्टेरोन हार्मोन ज्यादा स्रावित होगा और आपका शादीशुदा जीवन खुशहाल से भर जाएगा

(3) इरेक्टाइल डिसफंक्शन में लाभ (Safed Musli for Erectile Dysfunction)

यदि आप सुबह और शाम सफेद मूसली का एक -एक कैप्सूल का यूज़ करते हैं। तब आपको इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की प्रॉब्लम से निजात मिलेगी। ध्यान देने योग्य बात यह है कि लिंग में ढीलापन या तनाव को इरेक्टाइल डिस्फंक्शन कहते हैं।

(4) नपुंसकता की प्रॉब्लम की दूर होगी (Safed Musli for Impotence)

डेढ़ चम्मच मूसली पाक को गाय के दूध या शहद के साथ लेने से नपुंसकता की प्रॉब्लम दूर होती है इससे वीर्य गाढ़ा बनता है। जिसके परिणाम स्वरूप आपकी नपुंसकता की प्रॉब्लम दूर हो जाएगी।

(5) स्पर्म की गुणवत्ता में सुधार (Safed Musli for Sperm Quality)

यदि आप आधा चम्मच मुसली पाउडर को एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर रोजाना सुबह-शाम इसका सेवन करते हैं । इससे आपका स्पर्म क्वालिटी में सुधार होगा ।जिसके परिणाम स्वरूप यदि आप पिता नहीं बन पा रहे हैं तो आप पिता का सुख भोग पाएंगे।

(6) स्वप्नदोष की समस्या से निजात (Safed Musli for Nightfall)

यदि आप आधा चम्मच सफेद मुसली पाउडर को गुनगुने दूध के साथ मिलाकर दिन में दो बार खाना खाने के बाद लेते हैं| इससे आपका स्वप्नदोष की प्रॉब्लम दूर होगी और साथ ही साथ आपकी कमजोरी भी दूर होगी|

(7) वेट गेन करने में सहायक (Safed Musli for Weight Gain)

यदि आप सफेद मूसली के  एक – एक कैप्सूल का सेवन रोजाना सुबह-शाम करते हैं| इससे आपका शरीर स्ट्रांग होगा और साथ ही साथ गठीला बनेगा और आपका वजन भी बढ़ेगा|

(8) इम्युन सिस्टम को लाभ (Safed Musli for Immune System)

यदि आप आधा चम्मच मुसली पाउडर को साथ के साथ लेते हैं रोजाना दो बार तब इससे आपकी इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होगा| जिससे आपको कोई बीमारी नहीं होगी और आपका लाइफ स्टाइल गुड लाइफस्टाइल में बदल जाएगा और आप एक खुशहाल जीवन के मालिक बन पाएंगे|

(9) वेट लॉस के रूप में (Safed Musli for Weight Loss)

वर्कआउट के बाद यदि आप आधा चम्मच मुसली पाउडर को गर्म पानी के साथ सेवन करते हैं| इससे आपका वजन कम होगा ध्यान देने योग्य बात यह है कि गलती से भी इसको दूध के साथ सेवन नहीं करना है क्योंकि दूध के साथ सेवन करने से इससे आपका वजन बढ़ सकता है।

(10) मूत्र सम्बन्धी रोगों का निदान (Safed Musli for UTI)

यदि आप आधा चम्मच सफेद मुसली पाउडर को हल्के गुनगुने दूध के साथ दिन में दो बार खाना खाने के बाद लेते हैं। इससे आपकी मूत्र संबंधी रोगों का निदान होगा जैसे कि मूत्र विसर्जित करते समय जलन और साथ ही साथ बार-बार मूत्र आने की समस्या।

(11) अर्थराइटिस में लाभ (Safed Musli for arthritis)

यदि आप आधा चम्मच सफेद मुसली पाउडर को दिन में दो बार रोजाना दूध या पानी के साथ लेते हैं। तब आपका जोड़ों का दर्द दूर हो जाएगा।

सफेद मूसली में पाए जाने वाले न्यूट्रिशन क्या क्या है? (Safed Musli Me Kya Paya Jata Hai | Nutrition in Safed Musli)

सफेद मूसली में दो प्रकार के न्यूट्रिशन पाए जाते हैं एक पोषक तत्वों के रूप में दूसरा मिनरल्स के रूप में

(1) पोषक तत्व के रूप में

(a) कार्बोहाइड्रेट

(b)प्रोटीन

(c)फाइबर

(2) मिनरल्स के रूप में

(a)कैल्शियम

(b)पोटैशियम

(c)मैग्नीशियम

सफेद मूसली के नुकसान क्या है? (Safed Musli Ke Nuksan | Cons/Disadvantages of Safed Musli in Hindi)

(1) सफेद मूसली का सेवन यदि आप ज्यादा मात्रा में करते हैं वह भी काफी दिनों तक इससे आपको भूख में कमी आएगी क्योंकि इसका कारण है| आपका पाचन रस प्रभावित होगा जिसके परिणाम स्वरूप पाचन रस के लिए जो उपयोगी एंजाइम है वह  स्रावित नहीं होगा।
(2)सफेद मूसली पाउडर का सेवन करते है तो इससे आपके शरीर मे कफ की मात्रा बढ़ जाएगी क्योकि सफेद मूसली का तासीर ठंड होती हैं।
(3)सफेद मूसली का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से इससे आपका पाचन क्रिया प्रभावित होगा क्योंकि सफेद मूसली देर से पचता हैं।

सफेद मूसली से रिलेटेड रोचक फैक्ट (Safed Musli Ke Facts | Nutrition Facts of Safed Musli)

(1)सफेद मूसली वात -पित्त के दोष को कन्ट्रोल करता हैं।जिसके परिणामस्वरूप आपके शरीर  से कई रोगों से दूर रहेगा जैसे – डायबिटीज, हार्टबीट और कैंसर के रोगों में लाभ

(2)सफेद मूसली का उत्पादक राज्य है -गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान

(3)सफेद मूसली को आयुर्वेद में व्हाइट गोल्ड कहाँ गया हैं।

(4)सफेद मूसली का यूज जड़ और बीज के रूप में होता हैं।

(5)सफेद मूसली मार्केट में कैप्सूल और पाउडर के रूप में और साथ ही साथ पाक के रूप में अवेलेबल हैं।

(6) सफेद मूसली को भारत मे मूसली, व्हाइट मूसली, भारतीय स्पाइडर प्लांट के नांवसे जाना जाता हैं।

(7)सफेद मूसली का वैज्ञानिक नाम क्लोरोफाइटम बोरिविलेंम नाम है और यह लिकिएसी वंश से सम्बंधित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here