एनर्जी और इम्यून बूस्टर ड्रिंक के लिए सबसे अच्छा स्रोत नींबू पानी जानिए इसके फायदे के बारे में

0
1172
Nimbu Pani ke Fayde

Nimbu Pani ke Fayde: योग सूत्र के प्रवर्तक पतंजलि के अनुसार नींबू में ऐसे दुर्लभ गुण पाए जाते हैं जो शरीर के टिशू को रिफॉर्म करने के लिए प्रेरित करता है। इतना ही नहीं इसमें पाया जाने वाला विटामिन -सी और मैग्नीशियम, फास्फोरस जैसे गुण शरीर के अन्य बीमारियों को ठीक करने के लिए काफी अहम भूमिका निभाते हैं। नींबू के रस में 5% साइट्रिक अम्ल होता है। जिसका पीएच मान 2 से लेकर के 3 के बीच में होता है। भारत में नींबू की कई प्रजातियां पाई जाती हैं जैसे कागजी नींबू, कागजी कला, गलगल तथा लाइम सिलहट लेकिन सबसे ज्यादा खेती कागजी नींबू का ही होता है। भारत के कर्नाटक, तमिलनाडु, बंगाल, मध्यप्रदेश, पंजाब और आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में कागजी नींबू की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है  कागजी नींबू की खेती व्यवसायिक स्तर पर किया जाता है क्योंकि इससे तेल, पेक्टिन, सिट्रिक अम्ल से रस प्राप्त किया जाता है। विश्व में सबसे ज्यादा नींबू का उत्पादन भारत में होता है। पूरे संसार में जितना नींबू उत्पादन होता है उसका कुल 16 पर्सेंट नींबू उत्पादन अकेले भारत ही करता है।

आइए जानते हैं कि नींबू क्या होता है?

नींबू एक झाड़ीय पौधा होता है। इस पौधे की लंबाई औसतन 8 फीट से लेकर के 15 फीट के बीच में होती है। नींबू की शाखाओं में छोटे-छोटे कांटे होते हैं। इसकी पत्तियां छोटी होती है। नींबू का फल का आकार गोल होता है। छिलका पतला होता है। लेकिन नींबू का फल पकने के बाद पीला रंग का हो जाता है।

Nimbu Pani ke Fayde

नींबू पानी में पाए जाने वाला पोषक तत्व कौन कौन सा है?

(1)पोटैशियम

(2)लोहा

(3)सोडियम

(4)मैग्नेशियम

(5)तांबा

(6)क्लोरीन

(7)प्रोटीन

(8)वसा

(9)विटामिन ए

(10)विटामिन बी

(11) विटामिन सी

Nimbu Pani ke Fayde

नींबू पानी के सेवन के पश्चात इस से होने वाले फायदे कौन-कौन से हैं?

(1) बार-बार प्यास की समस्या का समाधान

गर्मी के मौसम में यदि बार-बार पानी की प्यास लग रही है तो घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है। इसका एक उपचार यह है कि आप शीतल जल में नींबू और नमक का घोल तैयार करें और उस घोल को पिए इससे आपको बार-बार प्यास नहीं लगेगी।

(2) पाचन क्रिया को सुधारता है

यह आपकी पाचन क्रिया गड़बड़ है। जिससे आपको तरह-, तरह की समस्या जैसे पेट साफ ना होना और भूख कम लगना और पेट में जलन होना और पेट में कीड़े हो गए हैं तो आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है। इसके लिए आप नींबू पानी का सेवन करिए क्योंकि नींबू पानी में अनेक पोषक तत्व जैसे आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस और जिंक जैसे तत्व पाए जाते हैं जो आपके पाचन क्रिया को सुधारता है जिससे आपका पूरा शरीर गरिष्ठ बन जाता है।

Nimbu Pani ke Fayde

(3) किडनी स्टोन की प्रॉब्लम को दूर करता है

कई सर्वे में खुलासा हुआ है कि नींबू पानी के सेवन के पश्चात इससे शरीर रिहाइड्रेट होता है। जिसके परिणाम स्वरूप यूरिन पतला होता है और किडनी स्टोन बनने की पॉसिबिलिटी भी कम हो जाती है। किडनी स्टोन एक घातक बीमारी है। कुछ मामलों में ऐसा होता है कि यूरीन के मार्ग से पास हो जाता है। लेकिन कभी-कभी ऐसा भी हो जाता है कि यूरीन के मार्ग को ब्लॉक कर देता है जिससे पीड़ा होने लगती है।

(4) डायबिटीज रोग में भी सहायक है

डायबिटीज के रोगियों के लिए नींबू पानी किसी वरदान से कम नहीं है। क्योंकि इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी का गुण पाया जाता है जो डायबिटीज होने से रोकता है। इतना ही नहीं यदि आपको डायबिटीज हो गया है और आपका वजन अधिक बढ़ गया है तो नींबू पानी- पीने से आपका वजन भी कम होने लगता है।

(5) रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है

नींबू पानी में विटामिन सी और फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसे अनेक पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। जिससे बाहर से आने वाले बीमारी से रक्षा करने के लिए हमारा शरीर तैयार रहता है।

(6) वेट लॉस में भी सहायक है

मोटापा एक अभिशाप बन चुका है जो भी व्यक्ति मोटापे से परेशान और येन केन प्रकारेण तरीकों को अपनाकर के परेशान हो चुका हैं तो परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। बस आपको प्रतिदिन सुबह नींबू पानी- पीना है इससे आप यह महसूस करने लगेंगे की आपका वजन धीरे-धीरे घट रहा है।

(7) बालों के लिए भी लाभकारी है

नींबू में आयरन और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो बालों को पोषके तत्व प्रदान करता है। जिससे हमारे बाल झड़ते नहीं है। यदि बालों में डैंड्रफ ज्यादा हो गया है तो बालों की जड़ों में नींबू का रस लगाएं इससे कुछ दिनों में ही डैंड्रफ खत्म हो जाएंगे।

Nimbu Pani ke Fayde
(8) अवसादग्रस्तता से भी निजात दिलाता है

संयुक्त परिवार का एकाकी परिवार में परिवर्तन से आजकल कम उम्र के युवाओं में अवसादग्रस्तता की बीमारी देखी जा रही है। यह बीमारी कई युवाओं को अपनी चपेट में ले ले रही है। और कई युवा उचित अनुचित में अलगाव ही नहीं कर पा रहे हैं। यदि जिस भी व्यक्ति को अवसादग्रस्तता की प्रॉब्लम है तो उसे नींबू पानी का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि नींबू पानी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी स्ट्रेस का गुण पाया जाता है जो मस्तिष्क को तरोताजा और नकारात्मक विचारों से दूर रखता है।

(9) स्किन की केयर करने में भी हेल्पफुल है

नींबू में एंटी एजिंग और एंटीऑक्सीडेंट का गुण पाया जाता है। जो स्किन की प्रॉब्लम जैसे झुर्रियां, कील मुंहासे, काले धब्बे जैसे प्रॉब्लम से निजात दिलाता है। वर्तमान समय में जितने भी सौंदर्य प्रसाधन जैसे फेसवास क्रीम और वैक्स बिकते हैं। उसमें दावा किया जाता है कि इसमें विटामिन सी है। विटामिन सी के स्रोत के रूप में नींबू ही प्रयुक्त होता है।

नींबू पानी पीने के नुकसान क्या है?

नींबू पानी के नुकसान तो वैसे कुछ भी नहीं है। लेकिन गर्भवती महिलाओं और जिस भी व्यक्ति को खट्टे से एलर्जी है। उसको नींबू पानी पीने से पहले या नींबू का सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श कर लेना चाहिए तब उसके बाद ही सेवन करें।

निष्कर्ष:

नींबू पानी एक एनर्जी ड्रिंक और साथ में इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक भी है। गर्मियों के मौसम में यह दोनों रूपों में उपयोग किया जाता है।

FAQ:

(1) सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से क्या होगा?

सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से बॉडी रिहाइड्रेट हो जाती है और इंसुलिन का स्रावण संतुलित हो जाता है। और इसके अलावा वेट लॉस भी होता है और डाइजेशन सिस्टम में स्ट्रांग होता है।

(2) 7 दिन तक नींबू पानी पीने से क्या होता है?

7 दिन तक लगातार नींबू पानी पीने से खराब गला, कब्ज और मसूड़ों की प्रॉब्लम जैसे बीमारी से निजात मिल जाता है।

(3) नींबू पानी कब नहीं पीना चाहिए?

सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से निर्जलीकरण की प्रॉब्लम हो सकती है।

(4) नींबू पानी के नुकसान क्या है?

अधिक मात्रा में नींबू पानी का सेवन करने से एसिडिटी और माइग्रेन और डिहाईड्रेशन की प्रॉब्लम हो जाती है।

(5) 1 दिन में कितना नींबू पानी पीना चाहिए?

1 दिन में एक गिलास नींबू पानी पीना चाहिए।

(6) नींबू से पेट की चर्बी कैसे कम करें?

नींबू से पेट की चर्बी कम करने के लिए आप मॉर्निंग के टाइम में गुनगुने पानी में नींबू और शहद को मिलाकर पीने से पेट की चर्बी गायब हो जाएगी।

(7) क्या नींबू खून को पतला करने वाला है?

जी नहीं नींबू खून को पतला नहीं करता है अभी तो नींबू के सेवन के बाद इससे हिमोग्लोबिन बढ़ता ही है।

(8) क्या नींबू सर्दी का कारण बनेगा?

सर्दियों में नींबू का सेवन किया जा सकता है। इससे सर्दी नहीं होती है अपितु यदि आप को सर्दी हो गई है तो इसके सेवन की पहचान इससे आपकी सर्दी ठीक हो जाएगी।

(9) नींबू की तासीर कैसी होती है?

नींबू की तासीर ठंडी होती है।

(10) नींबू में कौन सा अम्ल पाया जाता है?

नींबू में साइट्रिक अम्ल पाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here