मेथी के फायदे

0
1614

Methi ke Fayde: प्राचीन समय में हमारे देश के ऋषि मुनि अपनी पेट को साफ करने के लिए मेथी के पत्तों की सब्जी का सेवन करते थे। मेथी के पत्तों की सब्जी खाने में स्वादिष्ट भी है और यह पेट में होने वाली बीमारियों जैसे अल्सर,कब्ज, बदहजमी से छुटकारा भी दिलाता है। इंडियन काउंसिल मेडिकल रिसर्च के अनुसार मेथी भी ऐसे कंपोनेंट पाए जाते हैं जो जठराग्नि को बढ़ाने का कार्य करते हैं। कश्मीर से कन्याकुमारी तक के क्षेत्रों में मेथी से अलग-अलग व्यंजन बनाए जाते हैं जैसे मेथी का पराठा, मेथी से दाल फ्राई करना, मेथी की सब्जी और मेथी से मीठे पकवान भी बनाए जाते हैं और गर्भवती महिलाओं के लिए मेथी के लड्डू भी बनाए जाते हैं। एक तरफ जहां मेथी भारतीय व्यंजनों की शान है वहीं दूसरी तरफ मेथी एक आयुर्वेदिक औषधि है।

आइये जान लेते हैं कि मेथी क्या होती है?

मेथी एक उष्णकटिबंधीय पौधा है। इसके पौधे की लंबाई न्यूनतम 2 सेंटीमीटर से लेकर के अधिकतम 3 सेंटीमीटर तक होता है। इसमें सफेद रंग के फूल लगते हैं। अब इसके जो दाने होते हैं वह काले रंग और भूरे रंग से लेकर के पीले रंग के होते हैं। इसके दाने का उपयोग सौंदर्य प्रसाधन के उत्पाद बनाने में प्रयुक्त होता है जैसे साबुन, क्रीम और जेल आदि।

मेथी में पाए जाने वाले पोषक तत्व कौन – कौन सा है?

(1)विटामिन सी

(2)विटामिन बी6

(3)विटामिन डी

(4)आयरन 

(5)मैग्नेशियम

(6)कैल्सियम

(7)पोटेशियम

(8)सोडियम

Methi ke Fayde

Methi ke Fayde कौन -कौन से होते हैं?

(1) यदि आप बाल झड़ने की समस्या से परेशान है और हर उपाय करके थक हार चुके हैं। लेकिन बाल तब भी झड़ रहे हैं तो आप उपयोग करिए मेथी के दाने। आपको बता दें कि मेथी के दानों में विटामिन सी और आयरन पाया जाता है जो बालों के लिए काफी लाभकारी माना जाता है। बस आपको करना क्या है मेथी के दाने को लेकर के 50 ग्राम भिगो देना है। उसके बाद मिक्सर की मदद से उसका पेस्ट बनाकर के बालों में लगा लेना है। यह प्रक्रिया आपको सप्ताह में कम से कम 3 बार करना है, इससे आपका शत प्रतिशत बाल झड़ना रुक जाएगा।

(2) आपके कान से यदि मवाद निकलता है तो इसके लिए आपको मेथी के दाने का उपयोग करना चाहिए। मेथी का दाना सबसे उपयुक्त है। कान से जो मवाद निकलता है उसको रोकने के लिए। बस आपको क्या करना है लगभग 20 ग्राम मेथी के दाने को लेना है और 250 ग्राम दूध लेना है और दोनों को मिलाकर के मिक्सी की मदद से पेस्ट बना लेना है और उस पेस्ट को बना करके एक बोतल में रख लीजिए। जब आपको अपने कान में डालना हो हल्का गर्म करके एक बूंद या दो बूंद कान में डालिए। इससे आपके कान में से मवाद निकलना बंद हो जाएगा।

(3) आपके पेट में यदि दर्द हो और आपका पेट साफ नहीं रहता है तो इन रोगों के उपचार के लिए मेथी का दाना सबसे उपयुक्त है। मेथी का दाना एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुणों से युक्त है। बस आपको क्या करना है। मेथी का दाना लेना है लगभग 5 ग्राम से लेकर के 10 ग्राम के बीच में और उसमें काला नमक मिलाना है। उसके बाद इन दोनों के मिश्रण को आपको फांक लेना है और पानी पी लेना है। इसके सेवन से लगभग आधे घंटे के बाद आपको इसके प्रभाव का परिणाम मिल जाएगा। इससे आपका जो पेट दर्द की समस्या है वह खत्म हो जाएगा।

(4) जैसे जैसे गर्मी का मौसम आता है और साथ में लोगों को उल्टी की प्रॉब्लम भी होने लगती है। गर्मी के मौसम में अधिकतर लोगों को उल्टी इसलिए होती है क्योंकि गर्मी के मौसम में यदि हल्के भोजन का सेवन ना किया जाए बल्कि मसालेदार भोजन का सेवन किया जाए इससे पेट भारी भारी सा होने लगता है और जिससे उल्टी की प्रॉब्लम होने लगती है और इतना ही नहीं लू भी एक कारण है, तो इसके लिए आपको कुछ नहीं करना है बस मेथी के दाने का चूर्ण बना लेना है और इस चूर्ण को काले नमक के साथ लेना है इससे आपको उल्टी की प्रॉब्लम से राहत मिलेगी।

(5) गलत लाइफस्टाइल अपनाने के कारण कई महिलाओं को पीरियड में प्रॉब्लम होने लगती है जैसे पीरियड का अनियमित होना और पीरियड के दौरान अधिक मात्रा में खून का बहना और पेट में अधिक दर्द होना तो ऐसी महिलाओं को मेथी दाने का उपयोग करना चाहिए। आपको बता दें कि मेथी के दाने में एस्ट्रोजन हार्मोन का गुण पाया जाता है एस्ट्रोजन हार्मोन पीरियड को कंट्रोल करता है।

(6) अधिकतर गर्भवती महिलाओं को एनीमिया की बीमारी हो जाती है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान की एक रिपोर्ट के अनुसार हर 10 गर्भवती महिला में से 6 महिला को एनीमिया की प्रॉब्लम रहती है एनीमिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर में खून की कमी हो जाती है। एनीमिया से बचाव करने के लिए मेथी का दाना सबसे उपयुक्त है क्योंकि मेथी के दाने में आयरन पाया जाता है आयरन का कार्य होता है कि शरीर में खून का निर्माण करना।

मेथी के नुकसान कौन-कौन से होते हैं?

(1) दस्त की प्रॉब्लम

(2) गैस की प्रॉब्लम

(3) कब्ज की समस्या

(4) एलर्जी की प्रॉब्लम

मेथी का उपयोग कैसे करें?

(1) यदि आपको लच्छेदार पराठे को देख कर मुंह में पानी आने लगता है तो आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प यही है आप मेथी के पत्तों का उपयोग करके लच्छेदार पराठे खाइए। इससे आपको कोई बीमारी भी नहीं होगी आपको स्वाद भी मिल जाए।

(2) मेथी के दानों का उपयोग चूरन के रूप में और तेल के रूप में कर सकते हैं। जिस प्रकार की आपको प्रॉब्लम हो आप दाने को उसी प्रकार से उपयोग करिये।

निष्कर्ष:

methi ke fayde: शाकाहारी व्यक्तियों के लिए मेथी की पत्तियों की सब्जी सबसे अच्छी है। उनको स्वाद भी मिल जाएगा और इसका औषधि लाभ भी मिल जाएगा। यदि 1 शब्दों में कहा जाए मेथी में ऐसे दुर्लभ गुण पाए जाते हैं जो शरीर को प्रोटेक्ट करते हैं।

FAQ:

(1) सुबह खाली पेट मेथी खाने से क्या होता है?

सुबह खाली पेट मेथी खाने से डायबिटीज नहीं होती है और कब्ज की शिकायत नहीं होती है, बाल नहीं झड़ते हैं और चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती है।

(2) मेथी के दाने को भिगोकर के खाने से क्या फायदा मिलता है?

मेथी के दाने को भिगोकर के खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती है और आलस्यपन की प्रॉब्लम नहीं होती है और सिर दर्द नहीं होता है और शरीर में एनर्जी से परिपूर्ण हो जाता है।

(3) मेथी का पानी कितने महीने तक पीना चाहिए

मेथी का पानी अधिकतम 1 महीने तक लगातार पीना चाहिए।

(4) मेथी की तासीर कैसी होती है?

मेथी की तासीर गर्म होती है। इसलिए मेथी की पत्तियों की सब्जी सिर्फ ठंडी के मौसम में खायी जाती है जिससे शरीर को गर्मी की प्राप्ति होती है।

(5) मोटापा को कम करने के लिए मेथी का पानी कैसे पिए?

मोटापा को कम करने के लिए सबसे पहले रात को सोने से पहले किसी कटोरी में लगभग 20 ग्राम मेथी भिगो देना है। उसके बाद सुबह छन्नी के माध्यम से मेथी के दाने और पानी को पृथक कर देना है और फिर उस पानी को पी लेना है इससे आपका मोटापा कम हो जाएगा।

1000 F 287445850 Pu2nm1gqua3vs5lrmjxha9zgcv1aozke 696x464 1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here