जानिए वेब डेवलपर के बारे में

0
812
Web developer

Web developer:- गूगल पर हर दिन लगभग करोड़ों लोग कुछ ना कुछ सर्च करते रहते हैं और उनके द्वारा सर्च की गई जानकारी होम पेज पर शो करने लगती है। आप जो जानकारी सर्च करते हैं। उससे संबंधित 20-25 वेबसाइट ओपन हो जाती हैं और आप अपनी जानकारी उन वेबसाइट से प्राप्त कर लेते हैं। क्या आप यह जानने के जिज्ञासा कभी की है कि यह जानकारी हमें कैसे प्राप्त होती है? इसका सोर्सेस क्या है? और साथ ही साथ इस वेबसाइट को बनाता कौन है? क्या इस वेबसाइट को गूगल बनता है या कोई आम आदमी बनाता है यह सब प्रश्न आपके मन में जरूर उठते होगा आपको बता दे की यह सब काम वेब डेवलपर करता है जिसे कोडिंग की जानकारी होती है इस कोडिंग की मदद से वेबसाइट को आम जनमानस में पहुचाता है।

आइये अब जान लेते हैं कि वेब डेवलपमेंट क्या होता है?

वेब डेवलपमेंट क्या होता है? इससे पहले जान लेते हैं कि वेब डेवलपमेंट का अर्थ क्या होता है तो आपको बता दे वेब डेवलपमेंट का अर्थ होता है वेबसाइट का डेवलपमेंट करना जैसे एक फेमस वेबसाइट है drishtiias.com इस वेबसाइट को जब आप ओपन करेंगे तब आपको उसमें थीम्स नजर आएगा साथ ही साथ उसमें लिखा हुआ फॉन्ट और कोर्सेज की जानकारी होगी। तब आपके मन में प्रश्न उठ रहा होगा आखिर इसको कौन डिजाइन करता है? इसकी डिजाइन का काम वेब डेवलपर करता है वह कोडिंग की मदद से क्योंकि कोडिंग की भी एक भाषा होती है जैसे Java script, HTML, CSS  इन्हीं की हेल्प से वह वेबसाइट को बनता है। अब आप समझ ही गए होंगे वेब डेवलपमेंट क्या होता है? यदि एक शब्द में बोले जाए तो वेब डेवलपमेंट का मतलब होता है वेबसाइट को बनाना। वेबसाइट को बनाने के लिए जो व्यक्ति कोडिंग करता है उसे वेब डेवलपर कहते हैं।

Web developer वेब डेवलपर के प्रकार कौन-कौन से हैं?:

(1) Front End Web Developer-

Front End Web Developer ऐसे Web Developer होते हैं जो कोडिंग करने के लिए java script, CSS, HTML का उपयोग करते हैं। इनका उद्देश्य होता है वेबसाइट का डिजाइन सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के अनुकूल हो और साथ ही साथ विजिटर आसानी से इस वेबसाइट पर विजिट कर सके और वेबसाइट को लोड होने में ज्यादा समय ना लगे इन सब चीजों को ठीक Front End Web Developer ही करता है।

(2) Backend Web Developer-

Backend Web Developer वेबसाइट के बैकबोन की तरह होते हैं। इनका मुख्य कार्य होता है वेबसाइट को रन करना अर्थात वेबसाइट को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाना। इसके लिए उन्हें विशेष प्रकार से कोडिंग करनी पड़ती है। क्योंकि इस कोडिंग को करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस कोडिंग को वही वेब डेवलपर कर सकता है जिसको PHP ,Python, Ruby, Node.js, Java की जानकारी हो।

(3) Full Stock Web Developer-

Full Stock Web Developer ऐसी वेब डेवलपर होते हैं। जिसको Backend Web Developer और Front End Web Developer की जानकारी होती है अर्थात ये वेबसाइट को ऑडियंस के अनुकूल भी बना सकते हैं और साथ ही साथ टारगेटेड ऑडियंस के पास वेबसाइट को रन भी करा सकते हैं।

अब यह प्रश्न उठता है कि वेब डेवलपर कैसे बने?:

वेब डेवलपर बनने के लिए किसी स्पेशल एजुकेशन एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया की आवश्यकता नहीं होती है चाहे आठवीं पास हो या दसवीं फेल हो आप वेब डेवलपर बन सकते हैं। वेब डेवलपर बनने के लिए आप प्राइवेट इंस्टिट्यूट या गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट के माध्यम से बन सकते हैं। ध्यान देने वाली बात यह है कि आप बिना डिग्री हासिल किए बिना आप सिर्फ जावास्क्रिप्ट एचटीएमएल और css लैंग्वेज सीख सकते हैं और पैसे अर्न कर सकते हैं यदि आप डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं इसके लिए आपको कम से कम इंटरमीडिएट पास होना चाहिए।

क्या वेब डेवलपर बनने के कोई बेनिफिट भी होता है?:

(1) लाखों में सैलरी मिलती है।

(2) इसमें करियर बनाने के लिए ढेर सारे स्कोप है

(3) सबसे बड़ा बेनिफिट यह होता है आप इस काम को ऑफिस से या घर बैठे भी कर सकते हैं।

(4) इस काम को करते हुए आप खुद इंजॉय भी कर सकते हैं।

वेब डेवलपर बनने के लिए किस स्किल की आवश्यकता होती है?:

(1) वेब डेवलपर बनने के लिए आपके अंदर क्यूरियोसिटी और क्रिएटिव का गुण होना चाहिए।

(2) CSS, HTML, PHP, JavaScript, Java, query इन लैंग्वेज की जानकारी आपको होनी चाहिए।

(3) communication skills अच्छी होनी चाहिए।

(4) बदलते टाइम के अनुसार खुद को अपडेट रखना भी चाहिए।

कौन सा कोर्स करके वेब डेवलपर बन सकते हैं?:

(1) BSC Computer Science

(2) बीकॉम कंप्यूटर साइंस

(3) बीसीए

(4) CSS LANGUAGE

(5) HTML COURSE

(6) Java Language

(7) PHP Language

निष्कर्ष:

Web developer बनने के लिए किसी स्पेशल डिग्री की आवश्यकता नहीं होती है आप वेब डेवलपर घर बैठे ऑनलाइन क्लास करके भी बन सकते हैं और एक अच्छी खासी मोटी रकम कमा सकते हैं।

FAQ:

(1) वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है

वेब डेवलपर की सैलरी शुरुआती स्तर पर 20000 होती है लेकिन जैसे-जैसे वह इस फील्ड में एक्सपीरियंस होता जाता है वैसे-वैसे ही उसकी सैलरी भी इंक्रीज होती जाती है यह सैलरी करोड़ तक पहुंच जाती है।

(2) 12वीं के बाद वेब डेवलपर कैसे बने?

12वीं के बाद वेब डेवलपर बनने के लिए BSC Computer Science या बीसीए का कोर्स कर सकते हैं।

(3) वेब डेवलपर बनने में कितना टाइम लगता है?

वेब डेवलपर बनने में लगभग 6 से 12 महीने का समय लग जाता है।

(4) क्या वेब डेवलपर भारत में एक अच्छा करियर है?

भारत की जीडीपी में सर्विस सेक्टर का 54% योगदान है आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि आने वाले भविष्य में वेब डेवलपर की अच्छी खासी डिमांड होने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here