मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में शामिल करें अंजीर जानिए इसके फायदे के बारे में

0
1026
Benifits of anjeer

Benifits of Anjeer: भारत में ड्राई फ्रूट का एक बड़े लेवल पर बिजनेस करने वाली एक कंपनी ने एक रिपोर्ट जारी की है उसे रिपोर्ट के अनुसार भारत में प्रति व्यक्ति अंजीर की खपत बहुत ही कम है। कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में यह भी खुलासा किया कि अंजीर की खपत में कमी का कारण पैसा नहीं है बल्कि समाज में फैली अंजीर से जुड़ी भ्रांतियां हैं जैसे आप ग्रामीण समाज में चले जाएंगे कई लोग बताते हैं कि अंजीर के सेवन से बवासीर हो जाता है तो गांव के लोग डर जाते हैं और किसी विशेष अवसर पर ही अंजीर का सेवन करते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। अंजीर का सेवन करने की एक विधि होती है यदि उसी विधि के अनुसार अंजीर का सेवन करेंगे तो बड़ा लाभ होगा। भीगे हुए अंजीर को यदि आप मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में शामिल करते हैं इससे आपको अनेकों लाभ मिलेंगे जैसे शरीर में जो कमजोरी है तो वह कमजोरी दूर हो जाएगी, पाचन क्रिया सही रहेगी और मेटाबॉलिज्म बूस्ट रहेगा और बालों में चमक रहेगी आलस्यपन नहीं आएगी आदि।

सेहत का खजाना अंजीर क्या है?:

मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में शामिल होने वाला अंजीर किसी सेहत के खजाने से कम नहीं है अंजीर का वैज्ञानिक नाम फाइकस केरिका है। अंजीर को इंग्लिश में फिग के नाम से भी जाना जाता है। अंजीर का उत्पादन मिस्र तुर्की इटली और मोरक्को और इंडिया के कुछ रीजन में होता है। अंजीर के पैदावारी के लिए हल्की गर्मी चाहिए हल्की ठंडी चाहिए और हल्का सूखा क्षेत्र चाहिए। अंजीर की वृक्ष की लंबाई न्यूनतम 7 मीटर और अधिकतम 10 मीटर होती है।

गॉड गिफ्टेड अंजीर में कौन-कौन सा पोषक तत्व पाया जाता है?:

(1) प्रोटीन

(2) कैल्सियम

(3) मैग्नीशियम

(4) फास्पोरस

(5) आयरन

(6) कैडमियम

(7) कापर

(8) मैगनीज

(9) आर्सेनिक

(10) टाइटेनियम

(11) क्रोमियम

(12) जिंक

(13) कोबाल्ट

(14) लिथियम

(15) विटामिन ए

(16) विटामिन बी

(17) विटामिन सी

Benifits of Anjeer: कमजोरी दूर करने वाला अंजीर के प्रकार के बारे में जानिये

(1) ब्लैक मिशन अंजीर खाने में सबसे अच्छा माना जाता है। यह थोड़ा जूसी टाइप होता है इसका यूज केक बनाने में भी किया जाता है।

(2) कडोटा अंजीर यह खाने पर सबसे कम मीठा लगता है इसलिए इसे कच्चा ही नमक लगाकर खाया जाता है।

(3) कैलीमिरना अंजीर सभी किस्म में सबसे बड़ा होता है इसकी अनूठी बात यह है कि इसका स्वाद भी सभी किस्मो से अलग है।

(4) ब्राउन तुर्की अंजीर या खाने में कब मीठा लगता है इसीलिए इसका उपयोग सलाद के रूप में किया जाता है।

(5) एड्रियाटिक अंजीर इसका रंग व्हाइट होता है यह सभी किस्म में सबसे मीठा होता है।

सुपर फूड के नाम से जाना जाता है अंजीर, जानिए फायदे के बारे में:

(1) कब्ज रोगियों के लिए वरदान है

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफॉरमेशन की एक रिसर्च के अनुसार अंजीर में फाइबर पाया जाता है फाइबर का काम होता है पेट की सारी गंदगी को इकट्ठा करके मलद्वार से बाहर निकाल देना।

(2) हार्ट को स्वस्थ रखने में हेल्प करता है

राइट टू इनफार्मेशन के तहत मांगे गए एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में सबसे ज्यादा लोगों की मृत्यु हार्ट अटैक से होती है। जहां ट्यूबरक्लोसिस से 3281 लोग मौत को प्राप्त होते हैं वहीं हार्ट अटैक से 9470 लोग मारे जाते हैं। हार्ट के मरीजों को अंजीर का सेवन करना चाहिए अंजीर में लिपॉप्रोटीन पाया जाता है जो आपके हार्ट को प्रोटेक्ट करता है।

(3) वेट लॉस भी करता है

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 135 मिलियन लोग मोटापे की प्रॉब्लम से जूझ रहे हैं और 2035 तक 5.2% की दर से 11 मिलियन एडल्ट भी मोटापे की बीमारी से ग्रसित हो जाएंगे। यदि मोटापे की बीमारी से बचाना है तो अपने डेली रूटीन में अंजीर का सेवन करिए यह आपके शरीर को मोटा होने ही नहीं देगा। यदि आप मोटे हो गए हैं तब आपको वेट लॉस करना है तब भी अंजीर ही काम आएगा क्योंकि अंजीर में फाइबर पाया जाता है कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम होती है। उच्च मात्रा में फाइबर पाए जाने के कारण आपको भूख कम लगेगी जिसके परिणाम स्वरुप धीरे-धीरे आपके शरीर से अनचाहे फैट बर्न होने लगेगा।

benifits of anjeer


(4) लीवर को स्ट्रांग करता है

मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में अंजीर का सेवन करने से सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इससे आपकी लीवर से जुड़ी जो प्रॉब्लम है वह प्रॉब्लम दूर हो जाएगी क्योंकि इसमें ऐसे एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबॉयल और एंटीबैक्टीरियल के गुण पाए जाते हैं जो लीवर को दीर्घायु प्रदान करते हैं।

(5) डायबिटीज को कंट्रोल करने में हेल्प करता है

मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में अंजीर का सेवन करने से सबसे बड़ा फायदा यह भी मिलता है कि यह डायबिटीज को कंट्रोल करने में भी हेल्प करता है। अंजीर का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 50 होता है जो डायबिटीज रोगियों के खाने के लिए सबसे उपयुक्त है। कई रिसर्च में यह खुलासा भी हुआ है कि इसके सेवन से इंसुलिन का स्रावण भी होने लगता है जिससे रोगी शीघ्र ही डायबिटीज से ठीक हो जाता है।

(6) ब्रेस्ट कैंसर होने से प्रोटेक्ट करता है

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के अनुसार पूरे वर्ल्ड में 20 लाख महिलाएं ब्रेस्ट कैंसर की प्रॉब्लम से जूझ रही हैं उनमें से हर वर्ष 6 लाख महिलाओं की मृत्यु हो जाती है और भारत में इसकी मृत्यु दर 13.4 परसेंट है। अंजीर कुछ हद तक ब्रेस्ट कैंसर को कम कर सकता है क्योंकि इसमें प्रोटीयोलाइटिक एंजाइम पाया जाता है जो एंटी कैंसर का काम करता है।

(7) हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है

मॉर्निंग ब्रेकफास्ट में अंजीर खाने से कई फायदे मिलते हैं जैसे की हड्डियों को मजबूती मिलती है इसका कारण यह है कि अंजीर में बड़े स्तर पर पोटेशियम, फॉस्फोरस मैग्नीशियम और कैल्सियम पाए जाते हैं जो हड्डियों के लिए सुरक्षा वाल्व का काम करते हैं।

(8) ऊर्जा का खजाना है अंजीर

सूखे अंजीर में 249 कैलोरी पाई जाती है जो शरीर के लिए पर्याप्त है जो एथलीट बनना चाहते हैं उनको अपने डेली रूटीन में अंजीर को जरूर शामिल करना चाहिए।

(9) बांझपन को दूर करता है

जिन महिलाओं को बच्चा नहीं हो रहा है। उन महिलाओं को अंजीर का सेवन करना चाहिए ऐसा नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफॉरमेशन ने अपने रिसर्च में कहा है कि अंजीर महिलाओं की प्रजनन क्षमता को सुधारता है।।

(10) चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ने नही देता है

अंजीर के सेवन से चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती है क्योंकि इसमें विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं और यह चेहरे को हाइड्रेट भी रखता है जिससे आपको कील मुहासे की प्रॉब्लम नहीं होगी।

अंजीर से होने वाले नुकसान कौन-कौन से होते हैं?:

(1) अंजीर का सेवन ज्यादा ना करें क्योंकि इसमें शुगर पाया जाता है जो मोटापा का कारण भी बन सकता है।

(2) लो ब्लड प्रेशर वाले को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

(3) जो भी व्यक्ति एलर्जी की प्रॉब्लम से जूझ रहा है उसे अंजीर खाने से पहले डॉक्टर से राय मशविरा ले लेना चाहिए।

(4) जिसकी स्किन संवेदनशील हो उसको भी अंजीर का सेवन नहीं करना चाहिए।

अंजीर का सेवन कैसे करें?:

(1) सुखी अंजीर को रात में पानी में भिगोकर के सुबह खाली पेट खाना चाहिए।

(2) अंजीर को सलाद के रूप में भी यूज किया जा सकता है।

(3) घर में लजीज पकवान बना रहे हैं जैसे हलवा या मिठाई उसमें भी अंजीर का यूज किया जा सकता है।

(4) सुखी अंजीर का सूप भी बनाकर के पिया जा सकता है।

निष्कर्ष:

मॉर्निंग के ब्रेकफास्ट में अंजीर शामिल करने से सबसे बड़ा फायदा यह मिलता है कि इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता इंक्रीज होती है और साथ ही साथ कई ऐसी बीमारियां हैं जो मौसम परिवर्तन के साथ आ जाती है उन बीमारियों से आपको प्रोटेक्ट करता है।

Faq:

(1) 1 दिन में अंजीर कितने खाने चाहिए?

1 दिन में मिनिमम एक अंजीर और अधिकतम चार अंजीर का सेवन करना चाहिए।

(2) किस बीमारी में अंजीर का सेवन नहीं करना चाहिए

यदि पेट में दर्द, पथरी की प्रॉब्लम या लीवर की प्रॉब्लम हो तो उन व्यक्तियों को अंजीर का सेवन नहीं करना चाहिए।

(3) सुबह खाली पेट अंजीर खाने से क्या फायदा होता है

सुबह खाली पेट अंजीर खाने से पेट साफ होता है और चेहरे पर चमक बढ़ती है।

(4) अंजीर को दूध में मिलाकर पीने से क्या होता है?

अंजीर को दूध में मिलाकर पीने से इसके फायदे की लिस्ट बढ़ जाती है तब यह बॉडी के मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है।

(5) गर्मियों में अंजीर खा सकते हैं क्या?

गर्मियों में अंजीर खा सकते हैं लेकिन जब भी खाएं भिगोकर खाएं क्योंकि अंजीर की तासीर बहुत ही गर्म होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here