Indian Culture Fact:संसार मे सबसे अनूठी संस्कृति वाला इकलौता देश भारत

0
328
भारत

Indian Culture Fact: भारतीय संस्कृति में बहुत विविधता है कश्मीर से कन्याकुमारी तक खाने से लेकर के पहनने तक आपको देखने को मिल जाएगा। लेकिन यही विविधता अनेकता में एकता उत्पन्न करती है। हम सबका खान पहनावा भले ही एक ना हो। लेकिन दिल एक ही है इसका सबूत है भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान कश्मीर से कन्याकुमारी तक के स्वतंत्रता सेनानी भारत को आजाद करने के लिए एकजुट हुए। लेकिन 16वीं शताब्दी में भारत में ईस्ट इंडिया कंपनी के आगमन से भारतीय संस्कृति में फूट डालने का लगभग 200 सालों तक का प्रयास किया गया। लेकिन वह अपने प्रयासों में असफल रहे। उन्ही प्रयासों के दौरान उन्होंने हमारे भारत देश की बहुत सारी नायाब चीजों को चुरा कर अपने देश ले गए और अपने देश का ही पैदावार बता दिया तो आज हम इन्हें चीजों के बारे में जानते हैं कि ऐसा क्या है भारतीय संस्कृति में जो लोगों को जोड़ने का प्रयास करती है।

 पूरी दुनिया को शैंपू भारत ने ही दिया

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार पूरे वर्ल्ड में हर 40 व्यक्ति में से लगभग 10 व्यक्ति ऐसे होते हैं जो तो शैंपू लगाते हैं किसी न किसी रूप में लेकिन मना करते हैं कि हम शैंपू नहीं लगाते हैं महिला हो या पुरुष बच्चा हो या वृद्धि व्यक्ति सब व्यक्ति शैंपू एक बड़ी मात्रा में लगाते हैं। हम सब जो शैंपू लगाते हैं,अपने डेली रूटीन में वह शैंपू किसने बनाया आपको क्या लगता है कि यह शैंपू वेस्टर्न कंट्री ने बनाया है तो आपको बता दे कि यह सब झूठ है। भारत में प्राचीन समय से शैंपू का उपयोग होता रहा है पहले प्राचीन समय में शैंपू को चंपू कहा जाता था जिसका अर्थ होता था मालिश करना घर में नहीं कहते हैं थोड़ा तेल लगा दो या थोड़ा तेल की चंपी कर दो या चंपू कर दो तो प्राचीन समय में शैंपू भी भारत में उपयोग होता रहा है। 16वीं शताब्दी में अंग्रेजों के आगमन के बात यह शैंपू ब्रिटेन चला गया और ब्रिटेन वाले इस पर अपना पेटेंट कर लिए। दुनिया का पहला मॉडर्न शैंपू कैरी हर्बर्ट द्वारा 1937 में बनाया गया था।

भारत में ही सबसे ज्यादा पोस्ट ऑफिस का नेटवर्क है

अंग्रेजों के आगमन के बाद सन 1774 में कोलकाता प्रेसीडेंसी में सबसे पहले डाकघर की स्थापना की गई है लेकिन धीरे-धीरे अंग्रेजों को भारत पर अपनी पकड़ बनाने के लिए 1854 तक लगभग 701 डाकघर स्थापित किया जा चुके थे। लेकिन लार्ड डलहौजी ने सभी को एकीकरण करके एक अप्रैल 1854 को इंडियन डाक डिपार्टमेंट बनाया। जिसे आसानी से डाक सेवा का संचालन किया जा सके। अभी प्रजेंट टाइम में 154965 पोस्ट ऑफिस वर्किंग में है। भारत में ही कश्मीर के डल झील के पास एकमात्र तैरता हुआ फ्लोटिंग पोस्ट ऑफिस है। भारत सबसे बड़ा विस्तृत डाकघर वाला देश है इससे ज्यादा डाकघर किसी अन्य देश में नहीं पाया जाता है।

गाय को एक पवित्र पशु माने वाला इकलौता देश भारत

सनातन धर्म के अनुयायी गाय को माता के नाम से संबोधित करते हैं। वैदिक पीरियड में गाय को नहीं मारा जाता था गाय को अघन्या कहा जाता था। अघन्या का अर्थ होता है ना मारे जाने योग्य पशु और साथ ही साथ गाय को राष्ट्रीय पशु की संज्ञा भी दी गई है। यूरोपीय कंट्री जैसे सर्बिया नार्वे और स्विट्जरलैंड और खड़ी की देश जैसे सऊदी अरब और कतार में गाय का मांस बड़े स्तर पर खाया जाता है और साथ ही साथ गए कि मांस को प्रोसेसिंग करके कई प्रोडक्ट भी बनाए जाते हैं जिनकी डिमांड इंटरनेशनल मार्केट में बहुत ज्यादा है।

भारत का करणी माता का मंदिर चूहों का मंदिर है

भारत ही नहीं पूरे विश्व में एक इकलौता मंदिर है करणी माता का मंदिर जहां पर 20 हजार काले चूहे पाए जाते हैं इतनी ज्यादा संख्या में चूहे का पाया जाने के कारण इस मंदिर को चूहों का मंदिर कहा जाता है। ऐसी मान्यता प्रचलित है की करणी माता के बेटे की मृत्यु हो गई थी तो करणी माता ने यमराज से गुहार लगाई तो यमराज ने करणी माता की ममता को देखकर के उनके बेटे को पुनर्जीवन दे दिया और जब बेटे को पुनर्जीवन दिया तो यही बेटा इनका चूहे के रूप में प्रकट हुआ तभी से इस मंदिर को चूहों का मंदिर कहा जाता है। यह चूहों का मंदिर राजस्थान के बीकानेर में स्थित है।

 भारत में 26 छुट्टियां राष्ट्रीय स्तर पर की जाती है

भारत विश्व का एक इकलौता देश है जहां पर धार्मिक और राष्ट्र के सम्मान में छुट्टियां की जाती है। होली दीपावली, दशहरा, दुर्गा पूजा, ईद और बकरीद जैसे पर्व पर छुट्टियां की जाती है वहीं राष्ट्रीय स्तर पर 15 अगस्त और 26 जनवरी को भी छुट्टी की जाती है। इसलिए यह ऑफिशियल छुट्टी है कश्मीर से कन्याकुमारी तक होती है।

 अंतरिक्ष पर से देखे जाने वाला पर्व

भारत में ही एक इकलौता पर्व है कुंभ मेला जो अंतरिक्ष पर से दिखाई देता है। भारत में कुंभ मेला 12 वर्षों के अंतराल पर हरिद्वार, गंगा, उज्जैन और नासिक में लगता है। कुंभ मेले का भव्य आयोजन सबसे पहले छठवीं शताब्दी में हर्षवर्धन ने किया था। कुंभ मेले से संबंधित एक पौराणिक कथा प्रचलित है कि समुद्र मंथन के समय जो समुद्र से अमृत प्राप्त हुआ था उस अमृत को जब देवताओं और असुरों में वितरित की किया जा रहा था तो उस वितरण के दौरान एक असुर ने छल से अमृत को लेकर अदृश्य हो गया वह जिधर जिधर गया उसकी कुछ बंदे नासिक में गिरी कुछ बंदे हरिद्वार में गिरी कुछ प्रयागराज में और कुछ बूंदे उज्जैन में गिरी। इसके बाद से ऐसा कहा जाता है कि इनके जल में अमृत भी पाया जाता है जो व्यक्ति कुंभ मेले में भाग लेता है उसको अमरत्व का वरदान प्राप्त हो जाता है।

 भारत में 6 ऋतुओं की मान्यता है

वैश्विक स्तर पर वैसे तो तीन ही ऋतु में प्रचलित हैं जैसे कि ग्रीष्म ऋतु शीत ऋतु और वर्षा ऋतु लेकिन प्राचीन समय से भारत में छेड़ दिए प्रचलित हैं ग्रीष्म ऋतु, बसंत ऋतु, वर्षा ऋतु, शरद ऋतु,शिशिर ऋतु, हेमन्त ऋतु।

 चाय को राष्ट्रीय दर्जा प्राप्त है

भारत सबसे ज्यादा चाय का उत्पादन करता है और सबसे ज्यादा खपत भी करता है। यहां के लोगों की दिनचर्या चाय से ही शुरुआत होती है। अमर उजाला के एक लेख के अनुसार न्यूजीलैण्ड जितने चाय का निर्यात करता है भारत में लोग उतने चाय का उपभोग करते हैं। भारत में दार्जिलिंग चाय को जीआई टैग भी प्राप्त है। चाय की उत्पत्ति चीन से मानी जाती है कहा जाता है कि ईसा मसीह के जन्म से 2700 साल पहले एक बार चीन के शासक सेन नुंग बगीचे में बैठ आराम फरमा रहे थे। इस दौरान वह एक कप गर्म पानी पी रहे थे। उस गर्म पानी में एक उड़ता हुआ पत्ता आकर के गर्म पानी में घुल गया और जब उस पानी को पिए तो वह स्वादिष्ट लगा तो ऐसे ही कथा प्रचलित है चाय की उत्पत्ति से संबंधित।

सबसे पहले हीरे की माइनिंग करने वाला देश

भारत में प्राचीन समय से ही हीरे का खनन होता रहा है इसका प्रमाण या है कि 13वीं शताब्दी में गोलकुंडा के खान से प्रसिद्ध कोहिनूर हीरा प्राप्त हुआ है। कोहिनूर हीरे के बारे में ऐसा कहा जाता है कि यदि इसे बचा जाए तो पूरे दुनिया को दो दिन तक भोजन कराया जा सकता है। कोहिनूर हीरे को दक्षिण अभियान के दौरान मलिक काफूर को मिला था तो मलिक काफूर ने इस हीरे को अलाउद्दीन खिलजी को दिया था फिर यह मुग़ल सल्तनत का सर का ताज बना। लेकिन भारत मे ब्रिटिश हुकूमत के बाद यह प्रेजेंट टाइम में ब्रिटिश के महारानी के मुकुट की शोभा बढ़ा रहा है। ध्यान देने वाली बात यह है कि भारत के अलावा अगर कोई दूसरा देश हीरे की माइनिंग करने वाला बना है वह देश है ब्राजील, जिसने 1720 ईस्वी में हीरे की माइनिंग की थी।

 भारत में ही योग का आविष्कार हुआ

भारत के फेमस शुंग शासक पुष्यमित्र शुंग के राजपुरोहित महर्षि पतंजलि ने योग सूत्र में लिखा है कि योगश्चित्त वृत्ति निरोध: अर्थात चित्र वृत्तियों का निरोध ही योग है। योग एक ऐसा साधन है जिसके माध्यम से मानसिक और शारीरिक बीमारियों का उपचार किया जा सकता है। आज के समय में भले युवा लोग जिम जाते हैं जिम जाने से बॉडी बन जाती है लेकिन मानसिक स्तर का विकास नही हो पाता है। लेकिन योग में ऐसा अनूठा चमत्कार पाया जाता है जो आपको शारीरिक रूप से फिट भी रखता है और आपके मानसिक स्वास्थ्य को भी फिट रखता है।

सभी धर्म के लोग एक साथ रहते हैं

आप दुनिया के सभी इतिहास को देख ले। लेकिन आप पाएंगे कि भारत इकलौता देश है जहां पर सभी धर्म के लोग जैसे यहूदी, पारसी,ईसाई और हिंदू, मुस्लिम, सिख बुध्दिष्ट आदि धर्म के अनुयाई आपस में प्रेम पूर्वक रहते हैं सहिष्णुता की भावना के साथ आपको ऐसा किसी अन्य देश में देखने को नहीं मिलेगा।

क्रिकेट को सबसे ज्यादा प्यार देने वाला देश

दुनिया के कई देशों में क्रिकेट खेल भी जाता है और देखा भी जाता है। लेकिन भारत में क्रिकेट खेलने और देखने के साथ क्रिकेट जिया जाता है। आपको देखने की भी मिल जाएगा की क्रिकेट की प्रति लोगों की यह दीवानगी है किस कदर की है। जब लोग क्रिकेट देखने के लिए बैठते हैं तो खाना तक के भूल जाते हैं और ऐसा भी होता है जो क्रिकेट के प्रेम दीवाने होते हैं। उनकी हार्ट अटैक से मृत्यु भी हो जाती है क्योंकि वह अपने देश को हारते हुए नहीं देख सकते हैं। क्रिकेट भारतीयों की खून में है भले ही यह ब्रिटेन का आविष्कार है लेकिन ब्रिटेन में भी इसकी लोकप्रियता उतनी नहीं है जितने भारत में है इसलिए भारत का बोर्ड ऑफ कंट्रोल क्रिकेट फ़ॉर इंडिया सबसे रिचेस्ट बोर्ड है।

निष्कर्ष:

इंडियन कल्चर एक ऐसा कलर है जहां आपको सब कुछ मिलेगा आपकी जो इच्छा है वेस्टर्न कपड़े से लेकर के स्वदेशी कपड़े और वेस्टर्न व्यंजन से लेकर के देसी खाने तक का लुफ्त उठा सकते हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि भारत में खाने की जो डाइवर्सिटी है वह बहुत ज्यादा है यदि कोई व्यक्ति हर तरह का पकवान 365 दिन में 365 तरीके का खाए तब भी वह कुछ लजीज व्यंजन को नहीं खा पाएगा क्योंकि उसकी उम्र बीत जाए लेकिन रेसिपी कभी नहीं समाप्त होगी।

भारत में सबसे दिलचस्प क्या है?

भारत में सबसे बड़ा दिलचस्प यंहा की डाइवर्सिटी है जहां अनेक धर्म के लोग एक साथ रहते हैं।।

भारत में फेमस कल्चर क्या है?

भारत में फेमस कल्चर यहां का रीति रिवाज है।

भारतीय संस्कृति क्यों प्रसिद्ध है?

भारतीय संस्कृति में समन्वय और सहिष्णुता की भावना है इसीलिए भारतीय संस्कृति फेमस है।

भारतीय संस्कृति की सबसे बड़ी विशेषता क्या है?

भारतीय संस्कृति की सबसे बड़ी विशेषता अनेकता में एकता भाव अर्थात भले ही प्रजाति, क्षेत्र, जाति, धर्म, सम्प्रदाय के नाम पर अलग हो लेकिन दिल से सभी हिंदुस्तानी।

भारत की प्रथम संस्कृति कौन सी है?

भारत की पहली संस्कृति हड़प्पा सभ्यता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here